fbpx Press "Enter" to skip to content

पीएलएफआई का जोनल कमांडर परमेश्वर गोप गिरफ्तार

संवाददाता

रांचीः पीएलएफआई का एक प्रमुख जोनल रांची पुलिस के हत्थे चढ़ गया है। राजधानी के

व्यवसायियों व जमीन कारोबारी को जान मारने की धमकी देते रंगदारी मांगने मामले में

पीएलएफआई का जोनल कमांडर परमेश्वर गोप उर्फ प्रेम गोप को रांची पुलिस ने

गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। गिरफ्तार परमेश्वर गोप जमशेदपुर के

घाघीडीह जेल में बंद कुख्यात सुजीत सिन्हा और पलामू जेल में बंद हरि तिवारी के गुर्गों के

साथ मिलकर रंगदारी की मांग करता था। उक्त जानकारी एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा ने

शुक्रवार को प्रेसवार्ता में दी। उन्होंने कहा कि परमेश्वर गोप वन वृंदावन कंस्ट्रक्शन कंपनी

सह अखबार के मालिक अभय सिंह से रंगदारी मांगने और जान लेवा हमला कराने मामले

में भी संलिप्त था। इस मामले में गिरफ्तार परमेश्वर गोप ने स्वयं हथियार, गोली और

ग्रनेड बम उपलब्ध कराया था। छापेमारी टीम में कोतवाली डीएसपी अजित कुमार विमल,

साइबर डीएसपी यशोधरा, कोतवाली इंस्पेक्टर बृज कुमार, कोतवाली थाना के एसआई

बृजेश कुमार, एएसआई बलेंद्र कुमार, प्रवीण तिवारी, नवीन कुमार तिवारी समेत अन्य

शामिल थे।

पीएलएफआई कमांडर पर गुमला में पांच लाख इनाम का प्रस्ताव

बताया जाता है कि गिरफ्तार परमेश्वर गोप पर इनाम के लिए प्रस्ताव भेजा गया था। यह

प्रस्ताव हाल के दिनों में गुमला जिला से भेजा गया था। गुमला एसपी ने 5 लाख तक

इनाम होने का अनुमान लगाया था। हालांकि, अभी तक इनाम के कागजात पर मुहर नहीं

लगा था। जिस कारण गिरफ्तार परमेश्वर गोप पर इनाम की घोषणा नही हुआ था।

गुमला जिला में दर्ज है परमेश्वर गोप के खिलाफ 27 मामले

एसएसपी ने कहा कि गिरफ्तार परमेश्वर गोप के खिलाफ गुमला जिला में कुल 27 मामले

दर्ज है। सबसे ज्यादा मामला गुमला थाना में है। उसके बाद पालकोट थाना में, फिर

बसिया थाना शामिल है। इसमें नक्सल, आर्म्स एक्ट, हत्या, रंगदारी समेत अन्य मामले

शामिल है।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from आतंकवादMore posts in आतंकवाद »
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from रांचीMore posts in रांची »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!