18 से 20 साल की उम्र में ही युवा बेच देते हैं किडनी, गरीबी की मार

किडनी
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  • दोबारा से उग जाने की बात कह निकलवायी थी किडनी
  • बदले में दिए गए एक लाख रुपए
  • नेपाल में आए भूकंप से तबाही बना आर्थिक तंगी का कारण

एजेंसियां

नई दिल्ली : किडनी शरीर का एक  महत्वपूर्ण अंग होती है।

अब तक आपने इस तरह की खबरें सुनी होंगी की आईफोन के लिए या किसी अन्य कारण

के लिए लोग अपनी किडनी बेच देते है, लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी की दुनिया

में एक ऐसा गांव भी है जहां किसी भी व्यक्ति की किडनी ही नहीं है।

नेपाल में एक ऐसा गांव है जहां लगभग सभी लोग अपने मानव अंग तस्करों के के बेच चुके हैं।

होकसे नाम की इस गांव में ज्यादतर लोगों ने घर खरीदने के नाम पर यह काम किया है।

इसे किडनी वैली के नाम से भी जाना जाता है।

इन लोगों में से काफी लोगों के घर नेपाल में आए भूकंप के कारण तबाह हो गये थे।

भूकंप से तबाह हुए गांव में किडनी बेचने की मजबूरी

काठमांडू से करीब 20 किलोमीटर दूर होकसे गांव में ग्रामीणों के मुताबित कभी

तस्करों ने लालच तो कभी धोखे से उनकी किडनियां निकलवाई।

कुछ ग्रामीणों का कहना है कि तस्करों ने उनसे ये कहकर अंग निकलवाई थी कि उनकी किडनी दोबारा से उग जाएगी।

ग्रामीणों के मुताबिक इसे निकलवाने के लिए उन्हें दक्षिण भारत के अस्पतालों में भर्ती करवाया जाता था ।

साल 2015 में एक रिपोर्ट आई थी जिसमें बताया गया था कि कई लोग भारत में

आए। उन्हें इसके एवज में एक एक लाख रुपए दिए गए थे।

इस गांव का युवा 18 से 20 साल की उम्र में ही यह काम कर रहे ह ैं।

आपको बता दें कि इस तरह की घटनाओं पर रोक लगाने के लिए चीन लगातार

कदम उठा रहा है।

साथ ही बीते सालों में 200 गिरफ्तारियां भी की गई है साथ ही चीन ने 100 पीड़ितों को छुड़ाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.