fbpx Press "Enter" to skip to content

यशवंत सिन्हा ने भी सृजन घोटाला पर गंभीर बात कही

  • सत्ता के शीर्ष पर बैठे लोगों ने गड़बड़ी होने दी

  • के पी रमैया को किसका समर्थन सभी जानते हैं

  • सीएजी की रिपोर्ट के बाद भी घोटाला जारी रहा

  • सीबीआई जांच पर हाई कोर्ट का अंकुश रहे

दीपक नौरंगी

भागलपुरः यशवंत सिन्हा एक ऐसा नाम है, जो किसी पहचान का मोहताज नहीं है। पूर्व

प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी बाजपेयी के काफी करीबी माने जाने वाले श्री सिन्हा ने

अब भाजपा से अलग चलने का एलान कर दिया है। हाल के दिनों में उन्होंने वर्तमान केंद्र

सरकार की आर्थिक सहित नीतियों को सार्वजनिक आलोचना भी की है। वह अपनी नई

पार्टी के कार्यक्रम के सिलसिले में ही भागलपुर आये थे।

वीडियो में देखिये पूर्व केंद्रीय मंत्री ने क्या कुछ कहा

सृजन घोटाला पर पूछे गये एक सवाल का उत्तर उन्होंने काफी विस्तार से दिया। 

बिना किसी लाग लपेट के यशवंत सिन्हा ने कहा कि जिस जिलाधिकारी के खिलाफ

सीबीआई की चार्जशीट में के पी रमैया का नाम आया है। वह अधिकारी किसके करीबी थे

और किसके इशारे पर उन्होंने चुनाव लड़ा, यह कोई गोपनीय बात नहीं है। लेकिन अपने

प्रशासनिक अनुभव से वह यह कह सकते हैं कि इतने वर्षों तक यह घोटाला होता रहा।

सीएजी की रिपोर्ट आने के बाद भी अगर घोटाला जारी रहा तो ऐसा सिर्फ और सिर्फ सत्ता

के समर्थन से ही संभव था। राज्य के वित्त मंत्री को भी इसकी जिम्मेदारी लेनी चाहिए।

पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री ने कहा कि जिस तरीके से सीबीआई की जांच हो रही है, उससे साफ

है कि सीबीआई पर भी दबाव है। इसलिए वह मांग करते हैं कि सीबीआई की यह जांच

पटना उच्च न्यायालय की देखरेख में हो ताकि गड़बड़ी और विलंब को रोका जा सके।

यशवंत सिन्हा ने कहा खुली आंखों से बहुत कुछ दिख रहा

उन्होंने अपने अनुभव का हवाला देते हुए यह सारी बातें कहीं। उन्होंने कहा कि वह केंद्र में

वित्त मंत्री होने के अलावा भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी भी रहे हैं और बिहार के

कई जिलों में जिलाधिकारी भी रह चुके हैं। लिहाजा उनके पास प्रशासनिक और

राजनीतिक अनुभव है।

अपने राजनीतिक दल के बारे में पूछे गये सवाल पर उन्होंने कहा कि वह एक गठबंधन

बना रहे हैं, जिसमें अनेक दल शामिल हैं। दलों को जोड़कर एक मोर्चा तैयार करने की

कोशिश में अब तक सोलह दलों ने इसमें सहमति दी है। वह भागलपुर भी इसी सिलसिले

में आये हैं। 

नीतीश कुमार के कार्यकाल पर पूछे गये एक प्रश्न के उत्तर में यशवंत सिन्हा ने कहा कि

इन पंद्रह वर्षों में बिहार एक अपराधी और भ्रष्टाचारी राज्य बनकर रह गया है। उन्होंने

कहा कि दूसरे प्रदेशों से जब भी बिहार की तुलना करते हैं तो यह पाते हैं कि हर मामले में

बिहार इस दौरान पिछड़ गया है।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from अपराधMore posts in अपराध »
More from घोटालाMore posts in घोटाला »
More from चुनावMore posts in चुनाव »
More from बयानMore posts in बयान »
More from भागलपुरMore posts in भागलपुर »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »
More from वीडियोMore posts in वीडियो »

Be First to Comment

Leave a Reply