fbpx Press "Enter" to skip to content

वुहान शहर में कोरोना वायरस का प्रसार उम्मीद से अधिक

  • 75 हजार से अधिक लोग हैं पीड़ित

  • सरकारी दावे से अलग किया सर्वेक्षण

  • दुनिया के अन्य देशों तक पहुंची विषाणु

  • कई सप्ताह तक अन्य देशों में फैलेगी बीमारी

प्रतिनिधि

नईदिल्लीः वुहान शहर में कोरोना वायरस के बारे में चीन की सरकार का

दावा गलत भी हो सकता है। एक स्वतंत्र एजेंसी के सर्वेक्षण में यह बात कही

गयी है। इस सर्वेक्षण का अनुमान है कि वहां 75800 लोग अब तक इस

बीमारी की चपेट में आ चुके हैं। इसके अलावा अनेक लोग विषाणु से

प्रभावित होने के बाद चीन तथा अन्य देशों तक भी चले गये हैं। उनपर इस

वायरस का असर आने वाले दिनों में देखने को मिलना लगभग तय है।

सर्वेक्षण से जुड़े वैज्ञानिकों का मानना है कि इस वायरस से पीड़ित लोगों में

बीमारी के लक्षण अगले एक अथवा दो सप्ताह के भीतर देखने को मिलने

लगेंगे। तब जाकर इस बात का सही अनुमान लगाया जा सकेगा कि

दरअसल कितने लोग इस वायरस की चपेट में आये हैं। वैसे इससे प्रभावित

लोगों के माध्यम से अन्य शहरों और देशों में भी इसका प्रसार हो रहा है।

सिर्फ रोग की पहचान नहीं होने की वजह से खुद रोगी को भी यह पता नहीं है

कि वह खुद इस विषाणु को दूसरों तक पहुंचा रहा है। यानी चीन से जो

वायरस लेकर कहीं और गया है, उससे प्रभावित लोगों के आने वाले दिनों में

बीमार पड़ने का सिलसिला आगे भी जारी रहेगा।

एक प्रसिद्ध मेडिकल पत्रिका लांसेट में इसके बारे में जानकारी दी गयी है।

इससे संबंधित लेख में ही यह बताया गया है कि चीन की सरकार के दावों से

अलग बीमारी से पीड़ित लोगों की संख्या 75800 हो सकती है।

इतने लोगों को वुहान शहर से सीधे संक्रमण हुआ है। अब इनलोगों के

माध्यम से दूसरे लोगों तक यह बीमारी किस स्तर तक फैली है, इसका पता

बीमार व्यक्ति और उससे संपर्क बनाने वालों पर निर्भर है। इसके आंकड़े के

बारे में अब तक कोई अनुमान नहीं लगाया गया है।

वुहान शहर से निकले हैं हजारों लोग

लेख में स्पष्ट कर दिया गया है कि यह बीमारी बहुत तेजी से पूरी दुनिया में

फैलती जा रही है। गत 25 जनवरी तक इस बीमारी से पीड़ित लोगों के इस

आंकड़े में तेजी से बढ़ोत्तरी हो रही है क्योंकि दुनिया के अन्य देशों से भी इस

बीमारी से पीड़ित लोगों की खबरें आने लगी है। अनुमान के मुताबिक एक

सप्ताह से कम समय के अंदर ही लगभग दोगुने लोग इसकी चपेट में होने

की पुष्टि हो जाएगी।

बीमारी के बारे में चेतावनी जारी होने के बाद वुहान शहर छोड़कर जाने वाले

लोगों में से कितने लोग इसकी चपेट में आये हैं, उसका पता तो बीमार के

सामने आने के बाद ही चल पायेगा। लेकिन तय है कि इस शहर के लौटते

वक्त ऐसे वायरस पीड़ित लोग भी अपने माध्यम से बीमारी को फैलाते हुए

गये हैं। वुहान शहर के नागरिक व्यवस्था के आंकड़ों के मुताबिक इस बीच

करीब 40 हजार लोग यह शहर छोड़कर थाईलैंड, जापान, दक्षिण कोरिया

गये हैं। इसके अलावा हजारों लोग चीन के अन्य शहरो में गये हैं, जिनके

माध्यम से वायरस का प्रसार पूरे चीन में भी हो चुका है। सिर्फ ऐसे बीमार

लोगों के लक्षण अभी स्पष्ट होना शेष है।

इस बीच हॉंगकॉंग विश्वविद्यालय ने एक दवा करने का दावा किया है।

इसके बारे में बताया गया है कि यह कोरोना वायरस के लिए वैक्सिन का

काम कर सकता है। संस्थान का यह भी दावा है पिछले एक वर्ष में हुए शोध

में यह सफल प्रमाणित हुआ है और अब इंसानी इस्तेमाल के लिए पूरी तरह

तैयार भी है। शोध से जुड़े लोग इस विषाणु के प्रसार और मारक क्षमता के

आधार पर यह मान रहे हैं कि अप्रैल से मई के बीच इसका सबसे अधिक

असर देखने को मिलेगा।

चीन की सरकार भी आलोचना के घेरे में

इसलिए पहले से ही इस बात की तैयारी रखनी चाहिए। क्योंकि जो अनुमान

सरकार लगा रही है, वास्तविक असर उससे कई गुणा अधिक होने की पूरी

आशंका है। इस बीच चीन की सरकार की इसलिए भी आलोचना हो रही है

क्योंकि बीमारी फैलने के बाद भी उसके स्तर पर जनता को इसके बारे में पूरी

जानकारी नहीं दी गयी थी। खुद वुहान शहर के मेयर ने इस असफलता की

जिम्मेदारी लेते हुए अपने पद से इस्तीफा देने की पेशकश कर दी है।

वैसे इन बुरी खबरों के बीच अच्छी खबर यह भी है कि अकेले वुहान शहर में

इस वायरस से पीड़ित 103 लोग स्वस्थ होकर अपने घर चले गये हैं। वहां के

अस्पतालों में 2639 मरीज आये थे। इनमें से कुछ की हालत अब भी गंभीर

बनी हुई है। चीन के वुहान शहर की रेडक्रास सोसायटी को इस दिशा में काम

करने के लिए अब तक 86.5 मिलियन अमेरिकी डॉलर की सहायता मिली है।

स्वास्थ्य कर्मचारी  मास्क और दस्ताने के अलावा आंखों से रास्ते संभावित

संक्रमण से बचने के लिए अब आंख का चश्मा भी लगा रहे हैं।

इस बीच सरकार का दावा है कि वहां के लोगों के लिए भोजन का समुचित

प्रबंध कर लिया गया है। नागरिकों के लिए पर्याप्त सब्जी पहुंचा दिया गया

है। वहां के स्थानीय बाजार में लोगों के लिए अभी 34,400 टन सब्जी का

भंडार है, जो एक सप्ताह तक बिना किसी रुकावट के लोगों को सब्जी

उपलब्ध करा सकता है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

4 Comments

  1. […] वुहान शहर में कोरोना वायरस का प्रसार उ… 75 हजार से अधिक लोग हैं पीड़ित सरकारी दावे से अलग किया सर्वेक्षण दुनिया के अन्य देशों … […]

Leave a Reply

Open chat
Powered by