बगदादी के मारे जाने का अमेरिका के पास कोई सबूत नहीं

सीरिया में ब्रिटेन की युद्ध निगरानी संस्था सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स (एसओएचआर) ने मंगलवार (11 जुलाई) को इस्लामिक स्टेट (आईएस) के नेता अबु बकर अल-बगदादी के मारे जाने की 'खबर की पुष्टि' कर दी थी।

0 589

पेंटागन प्रमुख जिम मैटिस ने शुक्रवार (14 जुलाई) को कहा कि वह इसकी पुष्टि नहीं कर सकते कि आतंकवादी संगठन ‘इस्लामिक स्टेट’ प्रमुख अबु बकर अल बगदादी मारा गया है या नहीं। मैटिस की ओर से यह बात सीरिया से यह खबरें आने के बाद कही गई कि बगदादी मारा गया है। मैटिस ने कहा, ‘यदि हमें पता चलेगा, हम आपको बता देंगे….अभी मैं इसकी पुष्टि या इससे इनकार नहीं कर सकता।’ उन्होंने कहा, ‘हमारा रुख यह है कि हम उसे तब तक जिंदा मानेंगे जब तक यह साबित नहीं हो जाता और फिलहाल मैं इसे अन्य तरह से साबित नहीं कर सकता।’

ब्रिटेन स्थित निगरानीकर्ता सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स ने इस सप्ताह के शुरू में कहा था कि उसने सीरिया के दीर इज्जोर प्रांत में आईएस के बड़े नेताओं से सुना है कि बगदादी मारा गया है। आईएस की सोशल मीडिया इकाइयों की ओर से खबर की आधिकारिक पुष्टि या खंडन नहीं किया गया है। सीरिया में ब्रिटेन की युद्ध निगरानी संस्था सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स (एसओएचआर) ने मंगलवार (11 जुलाई) को इस्लामिक स्टेट (आईएस) के नेता अबु बकर अल-बगदादी के मारे जाने की ‘खबर की पुष्टि’ कर दी थी। एसओएचआर के निदेशक रामी अब्देल रहमान ने कहा, “हमने इस सूचना की दीर अल-जोर में आईएस के नेताओं, जिनमें एक तो फर्स्ट रैंक का है, उससे पुष्टि की है।” द टेलीग्राफ के मुताबिक, अब्देल ने कहा, “हमें इस बात का पता आज ही (मंगलवार) चला, लेकिन हम नहीं जानते कि वह कब और कैसे मारा गया।”

रूस के रक्षा मंत्रालय ने जून में कहा था कि उसने रक्का में एक हवाई हमले में बगदादी को मार गिराया, लेकिन अमेरिका ने कहा था कि वह उसकी मौत की पुष्टि नहीं कर सकता है और इसे लेकर पश्चिमी तथा इराकी अधिकारी उलझन में थे। रूस ने कहा था कि हमला 28 मई को किया गया था और दावा किया कि हमले में बगदादी सहित आईएस के कई अहम लोग भी मारे गए। हालांकि उन्होंने इसका कोई सबूत नहीं दिया था।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, इराकी समाचार एजेंसी अल-सुमारिया न्यूज ने कहा, “आईएस ने अपनी मीडिया के माध्यम से मोसुल के पश्चिम में स्थित तल अफार में एक संक्षिप्त बयान बंटवाया है, जिसमें उसने बिना कोई विस्तृत जानकारी दिए अपने नेता बगदादी की मौत की पुष्टि की है।”रिपोर्ट के मुताबिक, “आईएस ने अपने आतंकवादियों से खिलाफत की मोर्चेबंदी की दृढ़ता को बरकरार रखने का आह्वान किया है।” यह रिपोर्ट इराक के प्रधानमंत्री हैदर अल-आब्दी द्वारा मोसुल के आईएस से मुक्त होने की औपचारिक घोषणा के बाद आई है।

You might also like More from author

Comments

Loading...