fbpx Press "Enter" to skip to content

जाना है तो आओ मनायेंगे नहीं नखरे किसी के उठायेंगे नहीं

जाना है तो आओ यह अपील उन सभी नासमझ या अधिक समझदार लोगों के लिए है जो

अब तक वैक्सीन के मुद्दे पर व्हाट्सएप यूनिवर्सिटी की सूचनाओं को ब्रह्मवाक्य समझकर

बच रहे हैं। दरअसल एक से एक सूचनाएं इन सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मों पर प्रसारित हो

रही है। कुछ तो महज मजाक के लिए की जाती है। उसमें साफ साफ संकेत भी होता है कि

यह मजाक है। इसके बाद भी सोशल मीडिया की बदौलत अपना सारा ज्ञान बटोरने वाले

इतनी सी बात को नहीं समझ पाते हैं। किसिम किसिम का ज्ञान और चेतावनी। लेकिन

ज्ञान बांटने वाले का प्रोफाइल तलाशने पर पता चलता है कि वह सज्जन भी किसी से फ्री

में मिला ज्ञान ही बांट रहे हैं। अरे यार इतने वर्षों तक लगातार पढ़ाई करने और उसके बाद

दशकों तक मरीजों की जांच करने और उनकी जान बचाने वाले डाक्टर तुमसे अधिक मुर्ख

हैं क्या। किसे दोष दें अब तो सरकार के समर्थन में बाबा से लाला बने रामदेव भी एलोपैथी

को फटकारते नजर आये। कर लीजिए भाई साहब मनमानी। जिस दिन यह सरकार गयी

और फिर सरकार का मुखिया बदल गया तो आपको आंटा दाल के भाव का पता चल

जाएगा। दिल्ली की सीमा पर बैठे किसानों ने तो बाबा रामदेव को पहले से ही निशाने पर ले

रखा है। दिल्ली से हरिद्वार जाने वाले रास्ते पर इन्हीं किसानों के बीच से गुजरकर जाना

है। किसी दिन हत्थे चढ़ गये तो सारा ज्ञान धरा का धरा रह जाएगा।

इसी बात पर एक पुरानी फिल्म का गीत याद आने लगा है। फिल्म बंधन के लिए इस गीत

को लिखा था इंदीवर ने और उसे संगीत में ढाला था आनंदजी कल्याणजी की जोड़ी ने।

जाना है तो जाओ का यह गीत राजेश खन्ना और मुमताज पर

इस गीत को आशा भोंसले और महेंद्र कपूर ने गाया था जबकि फिल्म में इस गीत को गाते

हुए उस दौर की सुपर स्टार जोड़ी राजेश खन्ना और मुमताज नजर आये थे।

अरे जाना है तो जाओ, अरे जाना है तो जाओ मनाएँगे नहीं
अरे जाना है तो जाओ मनाएँगे नहीं
नखरे किसी के उठाएंगे नहीं
नखरे किसी के उठाएंगे नहीं

आना है तो आओ बुलाएँगे नहीं
आना है तो आओ बुलाएँगे नहीं
क़दमों पे सर को झुकायेंगे नहीं
क़दमों पे सर को झुकायेंगे नहीं
आना है तो आओ

देखि है देखि है देखि
देखि है देखि है
तेरे जैसी कितनी छोरिया
मरती है मरती है मुझपे
सरे गाऊ की गोरिया

अरे बुद्धु है बुद्धू है बिलकुल
तू क्या दुलहन लायेगा
लगता है तू कुवारा मर जायेगा
लगता है तू कुवारा मर जायेगा
हम कहें और क्या तेरा भैया खड़ा
नजरों में उसकी गिरायेंगे नहीं
नजरों में उसकी गिरायेंगे नहीं

जाना है तो जाओ मनाएँगे नहीं
जाना है तो जाओ मनाएँगे नहीं
नखरे किसी के उठाएंगे नहीं
नखरे किसी के उठाएंगे नहीं
जाना है तो जाओ

जब राजा महाराजा कोई
मुझे ब्याहने आएगा
जब राजा महाराजा कोई
मुझे ब्याहने आएगा
सीने पे सीने पे तेरे
सैप सा लहरा जायेगा

अरे तू है बन्दरिया
अरे तू है बन्दरिया
कोई मदारी ही तुझको ले जायेगा
कसके मरेगा डण्डे नचायेगा
कसके मरेगा डण्डे नचायेगा
अकाल मोति तेरी नक् छोटी तेरी

मन्दाकि को मुह हम लगाएँगे नहीं
मन्दाकि को मुह हम लगाएँगे नहीं
जाना है तो जाओ बुलाएँगे नहीं
जाना है तो जाओ बुलाएँगे नहीं
क़दमों पे सर को झुकायेंगे नहीं
जाना है तो जाओ बुलाएँगे नहीं।
हां जरा पश्चिम बंगाल की भी चर्चा कर लें।

बंगाल में यास से ज्यादा राजनीतिक तूफान की चर्चा

उसके बिना तो सारा सप्ताह ही बेकार चला जाएगा। जाहिर है कि अब यास तूफान गया

तेल लेने। यहां प्रतिष्ठा का सवाल बन गया है। अरे मोदी जी कहां छोटी छोटी बातों में

उलझकर असली समस्या को दरकिनार कर रहे हैं। अभी देश की जनता को कोरोना से

निजात की जरूरत है। ममता बनर्जी और उसके पूर्व मुख्य सचिव का मसला बाद में भी

देखा जा सकता है। वैसे आप खुद भी तो प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह की मीटिंग में नहीं

गये थे। आपको तब किसी ने रोका टोका था क्या। आपके लोग भले ही आपको पूर्व मुख्य

सचिव पर हो रही कार्रवाई पर शाबासी दे रहे हों लेकिन अंदरखाने की बात है कि देश का

आईएएस जो है वह नवसामंत वर्ग है। असली राजा वही लोग हैं। अब राजा के परिवार के

किसी व्यक्ति को धमकी दीजियेगा तो बाकी भाई लोग मिलकर आपके लिए गड्ढा खोदने

लगेंगे। उत्तर प्रदेश में जो कुछ चल रहा है वह मोदी वनाम योगी है अथवा योगी वनाम

अमित शाह है, इस पर अभी ध्यान देने की जरूरत है। भाजपा के कथित चाणक्य, जो

बंगाल में भी धोबियापाट खा चुके हैं, पर्दे के पीछे हैं। सामान्य समझ की बात है कि योगी

के आगे बढ़ने से भाजपा में नरेंद्र मोदी नहीं अमित शाह को परेशानी है। इसलिए भाई लोग

गुनगुनाते रहिये जाना है तो आओ मनायेंगे नहीं।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from देशMore posts in देश »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: