fbpx Press "Enter" to skip to content

चुनावी सभाओं में भीड़ जुटाने का साधन नहीं है एसएचजी की महिलाएं : हेमंत

रांचीः चुनावी सभाओं में महिला स्वयंसेवी संस्थाओं की महिलाओं को

जबरन लान की झामुमो ने आलोचना की है। झारखंड मुक्ति मोर्चा

(झामुमो) एवं उसके कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने

हटिया  विधानसभा क्षेत्र के कूटे गांव की जीविका संवर्द्धन सोसाइटी

(जेएसएलपीएस) से जुड़ी महिलाओं के सभाओं में जबरन ले जाए जाने

के आरोप को लेकर रघुवर सरकार पर हमला बोलते हुए आज कहा कि

स्वयं सहायता समूह (एसएचजी) की महिलाओं को राजनीतिक

सभाओं में भीड़ जुटाने का साधन समझने की गलती नहीं होनी

चाहिए।

झामुमो ने ट्विटर पर कूटे गांव की जेएसएलपीएस से जुड़ी महिलाओं

की मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी (सीईओ) को लिखे पत्र को पोस्ट किया

और कहा, ‘‘झारखंड के सीईओ से आग्रह है कि इस पत्र की गंभीरता के

आलोक में विचार करने के बाद उचित मार्गदर्शन तथा कार्यवाई करना

सुनिश्चित करें। ’’ झामुमो ने कहा, ‘‘धनबल की राजनीति में निपुण

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास

के नेतृत्व वाली सरकार ऐसा कोई मौका नहीं छोड़ रही जिससे लोकतंत्र

के इस पर्व को लोग भयमुक्त होकर मनाया जा सके।’’

वहीं, झारखंड महिला मोर्चा ने ट्वीट कर कहा कि प्रधानमंत्री से

मुख्यमंत्री तक के प्रत्येक भीड़ जुटाओ कार्यक्रम में समूह की बहनों को

बसों में भाजपा और प्रशासन द्वारा लाया जाता है। मुख्यमंत्री रघुवर

दास के नेतृत्व वाली सरकार ने समूह की बहनों को ठगी के सिवा कुछ

दिया नहीं। स्वरोजगार के नाम पर इस सरकार के करोड़ो के बंदरबांट

पर झामुमो जरूर पर्दाफाश करेगा।

चुनावी सभाओं में ले जाने की पत्र पोस्ट किया है

गौरतलब है कि झामुमो और श्री सोरेन द्वारा कूटे गांव की

जेएसएलपीएस की महिलाओं की ट्विटर पर पोस्ट की गई चिट्ठी में

सीईसी विनय कुमार चौबे को कहा गया है, ‘‘हमलोग कूटे गांव में रहते

हैं और जेएसएलपीएस के सदस्य हैं। कल 22 नवंबर को हुई रैली में

जाने के लिए भाजपा के उम्मीदवार नवीन जायसवाल दबाव बना रहे हैं

और नहीं जाने पर 500 रुपये जुर्माना देने की बात कही जा रही है।

हमलोगों को पूर्व में 500 रुपये का जुर्माना देना पड़ा था।’’ महिलाओं ने

पत्र में सीईओ श्री चौबे से सुरक्षा की गुहार लगाते हुए कहा गया है,

‘‘कृपया जोर-जबरदस्ती से हमें बचाया जाए।

यह आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन भी है।’’

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from नेताMore posts in नेता »
More from बयानMore posts in बयान »
More from महिलाMore posts in महिला »
More from रांचीMore posts in रांची »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!