fbpx Press "Enter" to skip to content

तंबाकू की लत से बचाने के लिए नया ‘टूलकिट’ लॉन्च

नयी दिल्ली : तंबाकू की लत की शुरुआत 18 साल से कम की उम्र में करता है। इस तथ्य

को ध्यान में रखते हुये विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने किशोरों को तंबाकू की

लत से बचाने के लिए शुक्रवार को एक नया टूलकिट लॉन्च किया। डब्ल्यूएचओ ने बताया

कि यह टूलकिट 13 से 17 वर्ष की उम्र के स्कूली छात्रों को ध्यान में रखकर तैयार किया

गया है।  किशोरों को तंबाकू की लत लगाने के लिए तरह-तरह के उपाय

करते हैं। बच्चों को इनके प्रति आगाह करने के लिए यह किट तैयार किया गया है। इसमें

एक पाँच मिनट का वीडियो, 10 मिनट का एक भ्रम दूर करने वाला क्विज, छात्रों को दो

समूहों में बांटकर चर्चा और कार्यशाला जैसे उपाय शामिल हैं। इसमें बच्चों को तंबाकू

उद्योग की तरह सोचने के टास्क दिये जायेंगे ताकि वे समझ सकें कि कंपनियाँ कैसे उन्हें

अपने झाँसे में लेती हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन के हेल्थ प्रोमोशन निदेशक रूडिगर क्रेच ने

लॉंिन्चग के मौके पर कहा ‘‘युवाओं को जागरूक करना महत्त्वपूर्ण है क्योंकि तंबाकू की

लत वाले 10 में से नौ लोग 18 साल से कम उम्र में इसकी शुरुआत करते हैं। हम युवाओं को

इतनी जानकारी देना चाहते हैं कि वे तंबाकू उद्योग के झाँसे के खिलाफ आवाज उठा सकें।

विश्व तंबाकू दिवस से दो दिन पहले यह टूलकिट लॉन्च करते हुये संगठन ने बताया कि

तंबाकू के सेवन से हर साल 80 लाख लोगों की मौत हो जाती है।  कंपनियों को

इसका इस्तेमाल करने वाले नये ग्राहकों की हमेशा जरूरत होती है इसलिए वे हर साल नौ

खरब डॉलर सिर्फ विज्ञापन पर खर्च करती हैं।

तंकाबू की लत छुड़ाने के विज्ञापन पर हर साल खबरों डॉलर

डब्ल्यूएचओ का कहना है कि तंबाकू उद्योग ने कोविड-19 महामारी के दौरान भी अपने

उत्पादों की बिक्री बढ़ाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है जबकि इनके सेवन से कोविड-19 के

संक्रमण से मुक्त होने की क्षमता कम होती है। तंबाकू कंपनियों ने ब्रांडेड मास्क बाजार में

उतारे हैं और क्वारंटीन के दौरान होम डिलिवरी का विकल्प दिया है। कई देशों में वे अपने

उत्पादों को ‘अनिवार्य’ उत्पादों की सूची में शामिल कराने में सफल रहे हैं। एक आकलन

के अनुसार 13 से 15 वर्ष की उम्र के चार करोड़ बच्चे तंबाकू का सेवन कर रहे हैं।

डब्ल्यूएचओ ने स्कूलों से निकोटीन उद्योग से किसी प्रकार की मदद या

प्रयोजन न लेने और उन्हें बच्चों के साथ संवाद नहीं करने देने की अपील की है। उसने

सेलिब्रिटी और अन्य प्रभावशाली लोगों से भी इस उद्योग को अपना प्रायोजक नहीं बनाने

तथा डिजिटल पर्दे पर तंबाकू उत्पादों ओर ई-सिगरेट के इस्तेमाल पर रोक लगाने की माँग

की है। उसने सरकार से हर प्रकार के तंबाकू उत्पादों, उनके विज्ञापन और प्रायोजन पर

रोक की अपील की है।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from दिल्लीMore posts in दिल्ली »
More from स्वास्थ्यMore posts in स्वास्थ्य »

Be First to Comment

Leave a Reply