Press "Enter" to skip to content

भारतीय गेंदबाजों की निरंतरता से हम भी थोड़े आश्चर्यचकित रह गए : एलिसा







गोल्ड कोस्ट: भारतीय गेंदबाज मेघना सिंह ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी पहली गेंद पर पहले

वनडे में एलिसा हीली को एक शानदार आउटस्ंिवगर से बीट किया था तो ऐसा लगा जून में इंग्लैंड

में सीरीज हारने के बाद भारतीय टीम में अगले साल के विश्व कप से पहले तेज गेंदबाजों की खोज

की एक कड़ी मिल गई है। झूलन गोस्वामी भी चिर परिचित अंदाज में बल्लेबाजों को परेशान करती

नजर आईं और पूजा वस्त्रकर की गेंदबाजी में भी एक नई धार दिखाई दी। तीसरे वनडे की समाप्ति

तक ऐसा लगा कि भारतीय तेज गेंदबाजी में कुछ बात जरूर है। मल्टी फॉर्मैट सीरीज में पिंक बॉल

टेस्ट के आते-आते यह हाल है कि मूलतया स्पिन पर निर्भर भारतीय गेंदबाजी ना सिर्फ अब तेज

गेंदबाजों के आधार पर चुनौती पेश कर रही है बल्कि सच में उन्होंने आॅस्ट्रेलिया की गेंदबाजों को

भी कुछ मामलों में पीछे छोड़ दिया है।

भारतीय गेंदबाजी का सितारा रहीं झूलन

तीसरे दिन के खेल के बाद हीली ने कहा, आज भारत के तेज गेंदबाजों ने वह कर दिखाया जो हम

अपनी गेंदबाजी के वक्त शुरुआत में नहीं कर पाए थे। हमने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया

और शायद हमारे गेंदबाजों में अनुभव की कमी साफ नजर आई। हालांकि मौसम के चलते हम पहले

दोनों दिन लाइट के रहते गेंदबाजी करने का फायदा भी नहीं उठा पाए।

इस शाम के समय में भारतीय गेंदबाजी का सितारा रहीं झूलन। मेंजबान की पारी के सातवें ओवर में

उन्होंने एक तेज इनस्व्ािंगर के जरिए सलामी बल्लेबाज बेथ मूनी के स्टंप बिखेरे और फिर हीली

के साथ एक रोचक प्रतिस्पर्धा का सार तीन गेंदों में दिखा। सबसे पहले एक अंदर आती गेंद से हीली

के बल्ले और पैड के बीच का रास्ता लेते हुए उन्हें बीट किया। अगली गेंद पर एक बाउंसर को पुल

करने के चक्कर में हीली के कंधे पर प्रहार किया।

और आखरि में एक आउटस्ंिवगर से उन्हें पवेलियन भेजा।

हर हिट जोड़ी को एक अच्छे जोड़ीदार की जरूरत होती है

हीली झूलन की ही गेंद पर दूसरे वनडे में शून्य पर आउट हुईं थीं और उनका कहना था, झूलन के

साथ भिड़ने में मजा आता है और उन्होंने मुझे कई बार आउट कर लिया है।

वह एक विश्व स्तरीय गेंदबाज हैं और अपने कद का इस्तेमाल करके वह अतिरिक्त उछाल लाती हैं।

140 से अधिक ओवर मैदान पर रहने के बाद उन्हें खेलना अपने-आप में एक कड़ी चुनौती है। हर

हिट जोड़ी को एक अच्छे जोड़ीदार की जरूरत होती है और शनिवार को पूजा और मेघना ने 27 ओवर

डालते हुए दबाव आॅस्ट्रेलिया पर बनाए रखा। दिशा और लंबाई में नियंत्रण के साथ तीनों ने शॉर्ट

बॉल का भी अच्छा उपयोग किया और झूलन की तरह पूजा को भी दो विकेट मिले हालांकि मेग

लेनिंग को पगबाधा दिया जाना बल्लेबाज के लिए दुर्भाग्यपूर्ण था। हीली ने भारतीय गेंदबाजों की

तारीफ करते हुए कहा, उन्होंने लाइट्स में बढ़िया गेंदबाजी की।

लंबाई देख कर हमारे युवा गेंदबाज भी काफी कुछ सीखेंगे

उन्होंने सीम को सटीक रखते हुए पिच से जितनी भी मदद मिली उसका भरपूर लाभ लिया।

उनकी निरंतरता से हम भी थोड़े आश्चर्यचकित रह गए। उनकी दिशा और लंबाई देख कर हमारे युवा

गेंदबाज भी काफी कुछ सीखेंगे। भारत ने झूलन के बाद अपने दूसरे सबसे अनुभवी तेज गेंदबाज

शिखा पांडे को अब तक टीम से बाहर रखा है और हीली के अनुसार यह टीम की गहराई का अच्छा

संकेत है। उन्होंने कहा, “भारत में इतने युवा खिलाड़ियों को मौका मिल रहा है यह देख कर हम भी

काफी उत्साहित हैं। हमें पहले मैच से पहले यकीन था कि शिखा पांडे जरूर खेलेंगी और हम उनके

लिए तैयारी कर चुके थे। अगर भारत उनके जैसे अनुभवी गेंदबाज को बाहर रख सकता है तो यह

उनकी टीम के लिए अच्छी बात है।



More from क्रिकेटMore posts in क्रिकेट »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.
%d bloggers like this: