fbpx Press "Enter" to skip to content

फलों का राजा आम इस सीजन में बाजारों से हो सकता है नदारद

  • राष्ट्रीय खबर

सीतामढ़ी : फलों का राजा आम इस बार लोगों को नदारत भी दिख सकता है। हर वर्ष गर्मी

के इस मौसम में लोग बेसब्री से आम का मिठास लेने का इंतजार करते है ।लेकिन इस बार

इंतजार का फल मीठा होना सम्भव नही दिख रहा है।पिछले वर्ष की तुलना में इस बार

आम के पौधे पर टिकोला काफी कम दिखलाई दे रहा है। आम के बगीचे में आराम कर रहे

कुछ किसानों ने कहा यह प्राकृतिक देन ही है,एक वर्ष अच्छी उपज होने के बाद अगले वर्ष

की उपज अच्छी नही हो पाती है,हर वर्ष संभव नही की आम अधिक फले। किसानों ने कहा

पौधा पर पके हुए आम से ही इंसान को नुकसान नही होता है लेकिन इससे अत्यधिक लाभ

के लिए कार्रवाईड में व्यावसायी रख देता है ,जिसके बाद यह फलों आ राजा खाने में मीठा

जरूर लगे लेकिन वैसे आमो को हम मीठा जहर ही कह सकते हैं। इसलिए जहां तक

सम्भव हो कार्रवाईड से पकाए गए फलों को नही खाना चाहिए । सोनबरसा के प्रखंड कृषि

पदाधिकारी कपिलदेव प्रसाद ने कहा इसे प्राकृतिक भी मान सकते है कि एक वर्ष अधिक

उपज तो एक वर्ष कम हो सकता है लेकिन साफ कम या समाप्त नही। यदि ऐसा है तो

किसानों को कृषि विभाग के निकटतम पदाधिकारो,किसान सलाहकार से सम्पर्क कर

जानकारों लेकर समय पर दवा देना चाहिए और अन्य बताए गए उपाय करना चाहिए।

फलों का राजा आम इलाके के कृषि उत्पाद का सहारा है

इस इलाके में आम की फसल भी किसानों के लिए बहुत बड़ा सहारा है। देश के कुछ खास

इलाके हैं, जहां आम की पैदावार से इलाके की अर्थव्यवस्था भी सीधे तौर पर जुड़ी होती है।

फलों का राजा आम की खेती में इस बार कम टिकोले नजर आने से आम के बगीचे से

वार्षिक कमाई करने वाले भी काफी चिंता में हैं क्योंकि कोरोना की वजह से पूरी

अर्थव्यवस्था पहले से ही डांवाडोल स्थिति में है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from कृषिMore posts in कृषि »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from बिहारMore posts in बिहार »
More from भोजनMore posts in भोजन »
More from मौसमMore posts in मौसम »
More from व्यापारMore posts in व्यापार »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: