fbpx Press "Enter" to skip to content

आदिवासियों के धर्म कोड को लेकर आरपार की लड़ाई होगीः देव कुमार धान




  • इसके लिए जोरदार तरीके से आंदोलन होगा

  • पूरे देश के आदिवासियों को एकजुट करना होगा

  • मांग के समर्थन में सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित

  • रमकंडा के प्राथमिक विद्यालय में धर्म कोड सम्मेलन

राष्ट्रीय खबर

सिरकाः आदिवासियों के धर्म और संस्कृति धर्मकोड की मांग को लेकर रमकंडा प्राथमिक

विद्यालय धावा पलामू में जिला स्तरीय सम्मेलन आयोजित किया गया। इसकी

अध्यक्षता सोमा मुंडा ने की। सम्मलेन में मुख्य रूप से राष्ट्रीय आदिवासी धर्म समन्वय

समिति के संयोजक सह पूर्व मंत्री देव कुमार धान, विशिष्ट अतिथि प्रेमशाही मुंडा

उपस्थित हुए। सम्मलेन को संबोधित करते हुए मुख्य वक्ता पूर्व मंत्री देव कुमार धान ने

कहां कि आदिवासियों का धर्म कोड लागू करने के लिए आर पार की लड़ाई लड़नी होगी।

पलामू प्रमंडल में जोरदार तरीके से जन अभियान चलाने की आवश्यकता है। धर्म कोड

लागू करने का पूरे देश में जन अभियान आंदोलन चला रहा हैं। पलामू प्रमंडल में भी

आदिवासियों को धर्म कोड आंदोलन को तेज करने के लिए सभी विभिन्न जनजातियों को

एकता में बांधने करने की आवश्यकता है। वहीं आदिवासी जन परिषद के केन्द्रीय अध्यक्ष

प्रेमशाही मुंडा ने कहा कि पूरा हिंदुस्तान आदिवासियों का देख रही है धर्मकोड लागू करने

के लिए इस बार आर-पार की लड़ाई लड़ी जाएगी क्योंकि हम हिंदू हैं न मुसलमान, न

ईसाई, ना बौद्ध, हम आदिवासियों का अपना धर्म है इसलिए 15 करोड़ धर्मकोड लागू करने

के लिए इस बार आर-पार की लड़ाई लड़ी जाएगी। क्योंकि हम हिंदू हैं न मुसलमान हैं न

सिख हैं हम आदिवासियों का अपना धर्म है इसलिए 15 करोड़ जनजाति की धर्मकोड लागू

करना अति आवश्यक है। इसलिए धर्मकोड का जन आंदोलन पलामू, गढ़वा और प्रमुख

क्षेत्र में जन जन तक ले जाने की आवश्यकता है।

आदिवासियों के धर्म कोड पर प्रदर्शन की तैयारी करें

दिनांक 1 फरवरी 2021 को आहूत राष्ट्रीय आदिवासी धर्म समन्वय समिति के द्वारा

मानव श्रृंखला को सफल बनाने के लिए जोरदार तरीके से तैयारी में लग जाएं जन

आंदोलन के बल पर ही धर्मकोड हम लोग लेंगे। सम्मेलन में सर्व सर्वसम्मति से प्रस्ताव

पारित किया गया जिनमें 2021 के जनगणना प्रपत्र में आदिवासी धर्म लिखने की सहमति

बनी। आदिवासी धर्म कोड लागू करने के लिए पलामू प्रमंडल में गांव-गांव पर जन

अभियान चलाया जाएगा। आगामी 21.12. 2020 को लातेहार एवं 22:12 2020 को गलवा

में महाबैठक एवं 23.12.2020 को पलामू में की जाएगी। बैठक में सोमा मुंडा, बिस्वनाथ

सिंह खरवार, लालचंद सिंह चेरो, अमरेश ओंराव, लोकनाथ सिंह, मोतीलाल मुंडा,अमरेश

उरांव, लोकनाथ सिंह चेरो, सुशीला बांरला, राधा देवी, बसंती बोदरा, भूलन पहियाहीरा,

मुंडारी समर सिंह मुंडा, लालचंद सिंह खरवार, सोमलाल मुंडा, मान सिंह मुंडा, मानी,

कोनगाड़ी आदि उपस्थित थे



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from इतिहासMore posts in इतिहास »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from धर्मMore posts in धर्म »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »
More from लाइफ स्टाइलMore posts in लाइफ स्टाइल »

Be First to Comment

... ... ...
%d bloggers like this: