fbpx Press "Enter" to skip to content

ग्रामीणों ने अपने स्तर पर कर दी तेनुघाट के ग्रामीण इलाके की नाकाबंदी

मिथिलेश कुमार

पेटरवारः ग्रामीणों ने अपने स्तर पर कोरोना का संक्रमण फैलने से रोकने का इंतजाम कर

लिया है। अब तेनुघाट के इलाके के अनेक गांवों में प्रवेश पथ बंद कर दिये गये हैं। इन

रास्तों को जंगल-झाड़ और अन्य उपायों से रोकने जाने के साथ साथ हाथ से लिखी नोटिस

भी चिपका दी गयी है। इन नोटिसों में साफ साफ बताया गया है कि अब गांवों में बाहरी

लोगों का प्रवेश पूरी तरह वर्जित है। साथ ही यह चेतावनी भी दी गयी है कि इस नियम का

उल्लंघन करने वालों पर आर्थिक जुर्माना भी लगाया जाएगा।

वीडियो में देखिये तेनुघाट के ग्रामीण इलाकों का नया इंतजाम

कोरोना के संक्रमण से देश को बचाने के लिए पूरे देश में पहले से ही लॉकडाउन की घोषणा

हो चुकी है। इस राष्ट्रीय लॉकडाउन के लागू होने के पहले ही झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत

सोरेन ने पहले फैसला लेते हुए इसे झारखंड में रोक दिया था। उसके बाद से लोगों के जहां

तहां जाने पर काफी रोक लगी हुई है। इस बीच कोरोना प्रभावित इलाकों से कुछ लोगों के

आने की खबर सार्वजनिक होने के बाद ग्रामीण इलाकों में संक्रमण को फैलने से रोकने की

यह कवायद प्रारंभ हो गयी है।

ग्रामीणों ने अपने स्तर पर निगरानी भी चालू कर दी है

बाहर से और खासकर कोरोना प्रभावित भीड़ भाड़ वाले इलाकों अथवा शहरों से लौटने

वालों की निगरानी की व्यवस्था ग्रामीणों ने अपने स्तर पर ही कर ली है। गांव के युवक

अपने इलाके में हर आने जाने वाले पर नजर रख रहे हैं। परिचित अथवा ग्रामीणों को आने

जाने का वैकल्पिक रास्ता पता है। ऐसे में उन्हें दूर से आते देख रोका भी नहीं जाता। इस

बारे मे पूछे जाने पर एक स्थानीय युवक ने बताया कि इस रोक के बाद भी बीमार अथवा

किसी अन्य आवश्यकता के लिए रास्ते खुले हुए हैं। मरीजों के ईलाज के लिए प्राथमिक

तौर पर प्रशिक्षित लड़कियां भी गांव में हैं। लेकिन वह सिर्फ गांव के अपने लोगों

को लिए ही हैं। वैसे जुर्माना के बारे में युवक ने स्पष्ट किया कि ऐसा कोई नियम नहीं है।

सिर्फ लोगों को इस तरफ आने से रोकने के लिए ऐसा लिखा गया है। लेकिन जब तक यह

लॉकडाउन जारी रहेगा गांव में यह नियम भी प्रभावी रहेगा


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Open chat