fbpx Press "Enter" to skip to content

वीडियो हुआ वायरल दारोगा और चौकीदार शराब मामले में गिरफ्तार

  • बांका एसपी ने वीडियो की जांच कर की कार्रवाई

  • कैमरे में कैद हो गयी थी दारोगा की सारी हरकत

  • पकड़े जाने पर सबूत मिटाने का भरसक प्रयास 

दीपक नौरंगी

भागलपुर: वीडियो हुआ वायरल तो दारोगा और चौकीदार अपने आप को नहीं बचा पाये।

यह घटना बिहार के बांका जिला का है। याद रहे कि बिहार में पहले से ही पूर्ण शराबबंदी

लागू है। इस वीडियो के सामने आने के बाद बांका एसपी ने तत्काल प्रभाव से दोनों के

खिलाफ कार्रवाई की है।

देखें वह वीडियो जो वायरल हुआ

https://youtu.be/o9idtx-9nqc

बिहार में शराब के मामले को लेकर बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने बिहार के हर जिला

पर अपनी विशेष नजर रखते हैं। जहां किसी प्रकार की शिकायत मिलती है उस पर तुरंत

कार्रवाई भी करते हैं। एक मामला बांका जिला में मिला जिसमें बिना देरी किए बांका एसपी

ने तुरंत कार्रवाई की और एक चौकीदार और दरोगा को शराब के मामले में जेल भेज दिया।

बिहार के बांका थाना (बांका जिला) के एक दारोगा रामप्रीत पासवान का वीडियो सोमवार

की शाम शराब खरीदते हुए वायरल हो गया। बांका एसपी अरविंद कुमार गुप्ता को

व्हाट्सएप के द्वारा वीडियो दिया गया बांका एसपी ने बिना विलंब किए पूरे मामले में

कार्यवाही के लिए एक टीम का गठन कर दिया गया और बिना विलंब किए तुरंत पूरे

मामले की कार्रवाई कराई है। वीडियो में दरोगा के साथ एक चौकीदार भी बताया जाता है।

मामले को गंभीरता से लेते हुए एसपी के आदेश के बाद बांका पुलिस ने शराब खरीदने वाले

दारोगा को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं चौकीदार को भी गिरफ्तार कर लिया गया। घटना

के संबंध में बताया जाता है कि बांका थाना में पदस्थापित सब इंस्पेक्टर रामप्रीत पासवान

बांका थाना के ही एक चौकीदार योगेंद्र पासवान के साथ सोमवार की शाम समुखियामोड़

मैदान के पास शराब खरीद रहा था। इसी बीच किसी ने उनका वीडियो बनाकर वायरल कर

दिया। कुछ लोगों ने इस बीच दारोगा को पकड़ा भी लेकिन वह लोगों से हाथ छुड़ा कर भाग

निकला।

वीडियो हुआ वायरल जिसमें थानेदार साफ नजर आ रहे हैं

वीडियो एसपी के हाथ लगा। इस संबंध में एसपी अरविंद कुमार गुप्ता ने बताया कि पुलिस

ने उक्त दारोगा और चौकीदार को गिरफ्तार कर लिया है। बांका एसपी अरविंद कुमार

गुप्ता ने मामले को गंभीरता से लिया और मामले की जांच के लिए एसडीपीओ दिनेश चंद्र

श्रीवास्तव को लगाया गया है। एसडीपीओ ने पूरे मामले को सही पाया और वीडियो में जो

बोतल थी वह शराब की बोतल नहीं थी लेकिन बोतल के अंदर शराब थी इस बात की पुष्टि

हो गई है दोनों को निलंबित कर दिया गया है और बांका एसपी के निर्देश पर गिरफ्तार कर

न्यायिक हिरासत में जेल भी भेज दिया गया है।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

One Comment

Leave a Reply

Open chat