fbpx Press "Enter" to skip to content

विहिप ने वीर शहीदों को दी श्रद्धाजंलि चीनी राष्ट्रपति का किया पुतला दहन

झरिया: विहिप ने लद्धाख सीमा पर गलवान घाटी के पास भारत और चीन के सेनाओं के

बीच हुई भीड़ंत मे सेना के 20 जवान शहीद हो गए। वही भारतीय सेना ने चीन के 43

जवानों को मार गिराया। झरिया, धनबाद, कोयलाचंल में लोगों ने भारतीय सेना के 20

शहीद हुए जवानों को भावभीनी श्रद्धाजंलि दी। चीन और भारत सीमा पर हुए हिसंक झड़प

में 15 जून को शहीद हुए भारतीय सेना सिपोय ओझा, कर्नल संतोष बाबू, हवलदार पालानी

को विहिप के जिलामंत्री रमेश पाण्डेय ने वुधवार को अपने कार्यालय कतरास मोड़ स्थित

इन वीर जवानों को भवभीनी श्रद्धाजंलि अर्पित किया। वही अपने कार्यालय के समीप

चाइनीस समानों के साथ चीन के राष्ट्रीय ध्वज, व राश्ट्रपति शी जिनपिंग के अलावे चीन

के सेना का पुतला दहन करते हुए। चीनी राष्ट्रपति व चीनी सेनाओं के विरोध मे नारे

लगाए। साथ ही श्री पाण्डेय ने कहा कि चीन के सेना द्वारा जो कायराना हरकत के साथ

भारतीय सेनाओं को पत्थर व लोहे की रड़ से चोटिल कर निर्मम हत्या 15 जून के देररात्रि

में कर दिया। इसका हम घोर निदां करते है। साथ ही भारत के उन जबाज सैनिकों को

श्रद्धासुमन अर्पित करते हैं। साथ ही सरकार से अपील करते हैं कि भारतीय सेना को

आरपार की लड़ाई के लिए अनुमति प्रदान करें। ताकि चीन को सबक सिखाया जा सके।

इसके लिए हमसभी भारतवासी भारत सरकार के साथ है। इसके अलावे हम तमाम

भारतवासियों से अनुरोध करते हैं कि चीन से आये हुए सभी समानों का वहिष्कार करें।

अगर हमलोग चीन का उत्पादन किया हुआ समान उपयोग में नही लायेगें। तो समझियें

की चीन को कमर हमलोगों ने कमजोर कर दिया है। बाकी हमारे देश के सेना पर छोड़ दें।

देश के सेना चीन के सैनिको के लिए काफी है।

विहिप ने कार्यक्रम किया तो अन्य संगठन भी शामिल हुए

भाजपा झरिया प्रखण्ड 20 सूत्री के उपाध्यक्ष अरिदंम बनर्जी ने चीनी सेना के इस

धोखाघड़ी का विरोध किया है। उन्होने भारतीय जवानों की शहादत को नमन किया। कहा

कि भारतीय सेना ने वीरता पूर्वक संर्घश कर चीन का सबक सिखाया है। विहिप के वरीय

कार्यकर्ता आचार्य बलदेव पाण्डेय ने देश की जनता से चीनी वस्तुओं के वहिष्कार की

अपील की हैं। उन्होने भारतीय जवानो के शहादत को नमन किया है।

चीनी वस्तुओं का हो वहिष्कार-झरिया चेम्बर

झरिया चेम्बर ऑफ कामर्स के महासचिव स्वरूप मंडल(बेनु) ने प्रधानमंत्री, वित्तमंत्री ,एवं

रक्षामंत्री को पत्र लिखा है। प्रेषित पत्र में श्री मंडल ने लिखा है कि चीन के सैनिकों की

धोखाघड़ी के कारण 20 भारतीय सेना शहीद हुए है। पूरे देश मे शोक की लहर है। इस

कारण अविलंब चीनी निमार्ताओं का निर्माण संबंधी आवटन रद्द करे। तथा चीनी वस्तुओं

की बिक्री भारत में प्रतिबंध की जाय। यही सच्ची श्रद्धाजंलि होगी। चीनी उत्पादों के

समतुल्य सामान बनाने वाली भारतीय कम्पनियों और ऐसे उत्पाद बनाने के लिए उत्सुक

भारतीय कम्पनियों को टैक्स में व्याप्त छूट देकर उनका मनोबल बढ़ाइए।


याद रखिए इतिहास किसी भी नायक को दो बार नहीं आजमाता ! यह भी याद रखिए कि

हमारे इतिहास है देश के वीरों की घास की रोटी खाकर भी देश के स्वाभिमान को खोने नही

दिए। हम उस देश के ही वासी हैं रुखी-सूखी खा लेंगें लेकिन सरहदों पर समझौते अब नहीं

करेंगे,साहस जुटाइए प्रधानमंत्री जी देश आपके साथ खड़ा है।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from धनबादMore posts in धनबाद »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

One Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!