fbpx Press "Enter" to skip to content

टीकाकरण बंद होने से राज्य में नवजातों की जिंदगी भी पड़ी खतरे में




  • कोरोना संक्रमण की वजह से रोका था

  • इस बीच जन्म लेने वाले बच्चों को खतरा

  • ग्रीन जोन में चालू किया जा सकता है काम

रांची : टीकाकरण अभियान पूरे राज्य में फिलहाल बंद है। कोरोना वायरस संक्रमण को

रोकने तथा उससे पीड़ित लोगों को बचाने के नाम पर इसे रोका गया है। लेकिन इस अवधि

में पैदा होने वाले नवजात शिशुओं के लिए यह बड़ा खतरा है। रांची शहर की बात करें तो

यह टीकाकरण निजी स्वास्थ्य केंद्रों में भी हुआ करता था। लॉक डाउन की वजह से ऐसे

निजी स्वास्थ्य केंद्र भी बंद है। इन दोनों कारणों से बच्चों का यह टीकाकरण बंद है।

कोरोना के मरीजों की संख्या में जन्म लेने वाले बच्चों का औसत निश्चित तौर पर अधिक

है। ऐसे में लॉक डाउन की अवधि में जो बच्चे पैदा हुए हैं, उनका जीवन अब भी कोरोना के

साथ साथ अन्य प्राणघातक बीमारियों के भी घिरा हुआ है। राज्य में फिलहाल कोरोना

संक्रमण के तीन अलग अलग क्षेत्र हैं। इनमें से रेड जोन, जिसे कोरोना के लिए अधिक

संक्रमण क्षेत्र माना जाता है, में सिर्फ रांची है। जहां कोरोना के संक्रमण पाये गये थे अथवा

रोगी ईलाज करा रहे हैं, वे इलाके ऑरेंज जोन में है। इनमें से एक हजारीबाग कल ही अब

कोरोना रोगी मुक्त हो चुका है। ऐसे में शेष इलाके जहां कोरोना का संक्रमण नहीं है, यानी

जो केंद्र सरकार के मापदंड के मुताबिक हरा जोन में हैं, कमसे कम वहां तो यह टीकाकरण

रोके रखने का कोई औचित्य नहीं है।

वैसे कल ही मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने निजी अस्पतालों को भी अपना ईलाज चालू करने

की हिदायत दी है। इसके बाद भी अब टीकाकरण का प्रारंभ नहीं होना इस अवधि में पैदा

होने वाले हजारों बच्चों के जीवन के लिए खतरा बना हुआ है।

टीकाकरण का काम ग्रीन जोन में भी प्रारंभ नही

सूत्रों की मानें तो रांची में टीकाकरण का सबसे अधिक काम रांची के सदर अस्पताल में

होता था। वहां कोरोना संक्रमण के फैलने के बाद अब वहां स्थिति को संक्रमण मुक्त

घोषित किये जाने तक टीकाकरण भी वहां चालू नहीं किया जा सकता है। ऐसे में रांची जैसे

इलाकों के लिए भी स्वास्थ्य विभाग अन्य स्वास्थ्य उपकेंद्रों और केंद्रों में इस टीकाकरण

अभियान को चालू कर सकता है। ताकि जो बच्चे इस बीच जन्म ले चुके हैं, उनका

टीकाकरण कर उन्हे अन्य बीमारियों के संक्रमण से बचाया जा सके

[subscribe2]



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from कोरोनाMore posts in कोरोना »
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from रांचीMore posts in रांची »

One Comment

... ... ...
%d bloggers like this: