fbpx Press "Enter" to skip to content

उत्तराखंड के पहाड़ों पर भारी हिमपात से पर्यटक खुश

नैनीतालः उत्तराखंड के पहाड़ों पर भारी हिमपात हो रहा है। इससे समझा जा रहा है कि

इस इलाके पर मौसम इस बार काफी मेहरबान है। मौसम के चलते नैनीताल व पूरे कुमाऊं

में जबरदस्त हिमपात हुआ है। कुमाऊं में तीन-चार दिन से मौसम लगातार खराब चल रहा

था और मौसम विभाग ने चेतावनी जारी की थी। तीन दिन से लगातार बारिश व कोहरे के

बीच भारी हिमपात हुआ है। निचले इलाकों में भी भारी बर्फ गिरी है। पूरे नैनीताल शहर में

बर्फ की मोटी चादर बिछी है। यहां बुधवार रात से हिमपात शुरू हो गया था जो रात भर

जारी रहा। समाचार लिखे जाने पर गुरुवार सुबह तक हिमपात जारी था। नैनीताल व उसके

आसपास की पहाड़यिां बर्फ से सफेद नजर आ रही हैं। पेड़ व पौधे भी हिममय हो गये हैं।

नैनीताल के आसपास के क्षेत्रों गागर, रामगढ़, मुक्तेश्वर, तथा चाइनापीक-स्रोव्यू की

ऊंची चोटियों पर जमकर हिमपात हुआ है।

उत्तराखंड के पहाड़ों से पर्यटन उद्योग लाभ में

नैनीताल के अलावा कुमाऊं के अल्मोड़ा, चंपावत, बागेश्वर व पिथौरागढ़ में भी जबरदस्त

हिमपात हुआ है। जानकारों का मानना है कि पिछले कई सालों में ऐसा हिमपात देखने को

मिला है। इससे एक ओर पर्यटकों व कारोबारियों की बांछें खिल गयीं हैं जबकि दूसरी ओर

दुश्वारियां भी बढ़ गई हैं। सभी जगह पानी व बिजली की सेवाएं ठप हो गयी हैं। नैनीताल

में जनजीवन बुरी तरह से अस्त व्यस्त हो गया है। भारी हिमपात के चलते फिलहाल

नैनीताल व आसपास के शहरों का सम्पर्क टूट गया है। इसके कारण तापमान में भी काफी

गिरावट दर्ज की गयी है। इस मौसम में यहां उत्तराखंड के पहाडों पर हिमपात देखने के

लिए ही देश विदेश के पर्यटक एकत्रित होते हैं। उत्तराखंड राज्य की आमदनी का एक बड़ा

स्रोत चार धाम यात्रा के बाद यह पर्यटन उद्योग ही है। बर्फवारी होने से यहां पर्यटकों की

संख्या और उनके रहने के दिन बढ़ जाते हैं। इस वजह से उत्तराखंड के पहाडों पर हो रहे

हिमपात ने वहां के कारोबारियों को भी प्रसन्न कर दिया है क्योंकि वहां हजारों की संख्या

में पर्यटक टिके हुए हैं।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from उत्तराखंडMore posts in उत्तराखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from पर्यटन और यात्राMore posts in पर्यटन और यात्रा »
More from मौसमMore posts in मौसम »
More from व्यापारMore posts in व्यापार »

One Comment

Leave a Reply