Press "Enter" to skip to content

उत्तराखंड में बादल फटने से आयी तबाही अब तक 17 शव मिले




देहरादून : उत्तराखंड में बादल फटने की वजह से आयी बाढ़ और भूस्खलन के कारण भारी नुकसान हुआ है।

यहां के आठ जिलों में त्राहि -त्राहि मची है।

कई जगह बादल फटने के बाद कोहराम मचा हुआ है तो कई जगह भूस्खलन से पहाड़ टूट कर सड़कों पर गिर रहे हैं।

उत्तरकाशी के मोरी क्षेत्र में रविवार को बादल फट गया था।

इस हादसे में 17 लोगों की मौत हो गई है। रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है।

उत्तराखंड में बादल फटने के बाद जोरदार भूस्खलन का वीडियो

आपदा प्रबंधन के सचिव एस ए मुरुगेसन ने बताया कि उत्तरकाशी के मोरी तहसील में बादल फटने से 17 लोगों की मौत हो गई है।

राहत और बचाव कार्य चल रहा है। इससे पहले सोमवार को वित्त सचिव अमित नेगी, महानिरीक्षक, आईजी, संजय गुंज्याल और उत्तरकाशी के जिला मजिस्ट्रेट ,डीएम आशीष चौहान ने अरकोट में हालात का जायजा लिया।

दरअसल उत्तरकाशी के मोरी क्षेत्र में रविवार को भारी बारिश हुई।

इसके बाद बादल फट गया। इस हादसे में ग्रामीणों के मलबे में दबे होने की सूचना मिली।

इस पर एसडीआरएफ की टीम बड़कोट से रवाना हुई, सुदूरवर्ती क्षेत्र मोरी के गांव

माकुड़ी, टिकोची और आराकोट भारी बारिश से सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं।

उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में रविवार को अतिवृष्टि के कारण उत्पन्न

विषम परिस्थितियों के मध्य वायु सेना चार व्यक्तियों को सुरक्षित निकाल कर देहरादून लायी है।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि वायु सेना के दो हेलिकॉप्टर

आपदा ग्रस्त क्षेत्र मोरी तहसील के आराकोट पहुंच गए हैं,

जबकि एक अन्य हेलिकॉप्टर माकड़ी गांव में परीक्षण कर रहा है।

इसके साथ ही ग्राम आराकोट से एक महिला सहित चार लोगों को उपचार के लिए देहरादून स्थित दून मेडिकल कॉलेज में लाया गया है।

चिकित्सा अधिकारियों ने इन सभी के स्वास्थ्य सामान्य बताया हैं।

सूत्रों ने बताया आपदा ग्रस्त सभी चार क्षेत्रों में हेलिकॉप्टर के माध्यम से खाद्य सामग्री पहुंचाई जा रही है।

उधर, मौसम विभाग ने अगले 24 घण्टे में राज्य के कुमायूं मण्डल के कुछ स्थानों पर

भारी बारिश की संभावना व्यक्त की है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •   
  •  
  •  
More from Hindi NewsMore posts in Hindi News »

Be First to Comment

Leave a Reply