fbpx Press "Enter" to skip to content

विदेशी लोगों के ईलाज का खर्च नहीं उठायेगा अमेरिकाः ट्रंप

वाशिंगटनः विदेशी लोगों के ईलाज का खर्च अब अमेरिका नहीं उठायेगा।

इसलिए अमेरिका आने वालों को वीजा हासिल करने के लिए अपना स्वास्थ्य बीमा बताना पड़ेगा।

अमेरिका ने स्वास्थ्य बीमा और चिकित्सा संबंधी अपने खर्चों का वहन नहीं उठा सकने वाले अप्रवासियों को वीजा नहीं देने का निर्णय लिया है।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस संबंध में एक आदेश पर हस्ताक्षर भी कर दिया है।

शुक्रवार को व्हाइट हाउस की तरफ से जारी घोषणा-पत्र में कहा गया है कि इसका प्रभाव शरणार्थी के रूप में शरण पाने वाले किसी व्यक्ति पर नहीं होगा।

यह नियम तीन नवंबर से प्रभावी हो जाएगा।

अमेरिकी समाचार वेबसाइट वोक्स की रिपोर्ट के अनुसार ट्रंप ने कहा, ‘‘अमेरिका में उन विदेशी

अप्रवासियों के प्रवेश को निलंबित या सीमित कर दिया गया है जो देश के स्वास्थ्य व्यवस्था पर

वित्तीय बोझ डालते हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘अप्रवासी अमेरिकी स्वास्थ्य व्यवस्था पर तब तक वित्तीय बोझ बने रहेंगे

जब तक कि अमेरिका में उनके प्रवेश के 30 दिनों के भीतर उनका स्वास्थ्य बीमा नहीं हो जाता

या देश में मौजूदा चिकित्सा खर्चों का वहन करने में वे समर्थ न हो जाएं।

श्री ट्रंप ने कहा कि आंकड़ें बताते हैं कि ‘‘वैध अप्रवासी’ अमेरिकी नागरिकों की तुलना में

बहुत कम स्वास्थ बीमा कराते हैं।

प्रवासियों को अमेरिकी करदाताओं के बल पर अब और आगे नहीं ढोया जाना चाहिए।’’

विदेशी लोगों के संबंध में ट्रंप का यह दूसरा बयान है

इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शरणार्थियों के बोझ पर भी प्रतिकूल टिप्पणी की थी।

वह दरअसल मेक्सिको की सीमा से घुस रहे शरणार्थियों को रोकना चाहते थे।

इसके लिए उन्होंने इस सीमा पर स्थायी दीवार के निर्माण का प्रस्ताव दिया था।

जिसे कांग्रेस ने अस्वीकार कर दिया।

उस दौरान भी दोनों पक्षों के बीच तनाव की वजह से अमेरिका में काम बंदी तक की

नौबत आ गयी थी।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from कूटनीतिMore posts in कूटनीति »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from स्वास्थ्यMore posts in स्वास्थ्य »

One Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!