Press "Enter" to skip to content

अमेरिका में कूटनीतिक विफलता पर राजनीति गरमायी




वाशिंगटनः अमेरिका में कूटनीतिक विफलता पर राजनीति गरमाने लगी है।

राष्ट्रपति का चुनाव करीब आने की वजह से हर पक्ष ऐसे हर फैसले का राजनीतिक लाभ उठाना चाहता है।

इस क्रम में अमेरिकी प्रतिनिधि सभा के विदेश मामलों की समिति ने अफगानिस्तान में

शांति वार्ता के लिए अमेरिका के विशेष प्रतिनिधि जलमय खलीलजाद को सम्मन जारी किया है

और उन्हें 19 सितंबर को समिति के समक्ष उपस्थित होने को कहा है।

विदेश मामलों की समिति ने गुरुवार को कहा, ‘‘प्रतिनिधि सभा के विदेश मामलों के अध्यक्ष एलियट एल. एंगल ने

अफगानिस्ता में शांति वार्ता के लिए अमेरिका के प्रतिनिधि जलमय खलीलजाद को आज सम्मन जारी किया

और उन्हें अगले गुरुवार यानी 19 सितंबर को होने वाली समिति की खुली सुनवाई के दौरान बयान देने के लिए तलब किया है।’’

समिति के बयान में बताया कि अफगानिस्तान शांति योजना के बारे में श्री खलीलजाद द्वारा

पैनल को जानकारी देने के बारे में की गयी अपील को विदेश मंत्रालय ने नजरअंदाज कर दिया,

जिसके बाद श्री एंगल ने यह सम्मन जारी किया।

अमेरिका में कूटनीतिक विफलता के बीच प्रवासियों का प्रदर्शन

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की प्रवास नीति के खिलाफ गुरुवार को हजारों लोगों ने

यहां प्रवास एवं सीमा शुल्क विभाग के मुख्याल के सामने प्रदर्शन किया।

अमेरिका के विभिन्न क्षेत्रों से लोग गुरुवार को यहां इकट्ठा हुए और शांतिपूर्ण तरीके से रैली निकाली।

प्रदर्शनकारी स्पेनिश भाषा मंर नारेबाजी कर रहे थे। प्रदर्शनकारी अमेरिकी सरकार से प्रवासियों को हिरासत में लेने की कार्रवाई को बंद करने की मांग कर रहे थे।

प्रदर्शनकारियों का कहना था कि प्रवासियों ने कोई अपराध नहीं किया है। वे लोग शरण ले रहे हैं।

डेविन मिशेल नाम के प्रदर्शनकारी ने कहा, ‘‘सरकार सीमा को नियंत्रित करने के लिए जो कर रही है

उसके खिलाफ प्रदर्शन करने के मैं यहां आया हूं।

प्रवासी हमारे समुदाय के लिए लाभकर हैं। इस देश में आने वाले लोग बहुत बहादुर हैं।

वे लोग बेहतर स्थिति और बेहतर अवसर की तलाश में यहां आते हैं।’’

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •   
  •  
  •  
More from Hindi NewsMore posts in Hindi News »

One Comment

Leave a Reply