Press "Enter" to skip to content

अमेरिका के विशेष दूत खलीलजाद तालिबान शांतिवार्ता के लिए अफगानिस्तान पहुंचे




काबुलः अमेरिका के विशेष दूत जलमय खलीलजाद देश में

शांति प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए रविवार को अफगानिस्तान पहुंचे।

अफगानिस्तान में अमेरिकी दूतावास ने यह जानकारी दी।

अफगानिस्तान सुलह के लिए विशेष प्रतिनिधि राजदूत

जलमय खलीजाद राष्ट्रीय एकता सरकार के नेताओं,

राजनीतिक नेताओं, नागरिक समाज और महिलाओं के

साथ परामर्श के लिए आज काबुल पहुंचे। वह एक

समावेशी शांति प्रक्रिया को लेकर अमेरिकी प्रयासों की

प्रगति पर चर्चा करेंगे। दूतावास की ओर से जारी बयान के

अनुसार तालिबान आंदोलन के साथ शांति वार्ता एक महत्वपूर्ण

चरण में पहुंच गई है। जारी बयान में कहा गया,

”जैसा कि शांति वार्ता एक महत्वपूर्ण चरण में पहुंच गयी है,

पूरे देश के नागरिकों को इसके साथ कैसे जोड़ा जाय ताकि

स्थायी शांति लाने के लिए राजनीतिक समझौता किया जा सके।

” अपनी यात्रा के दौरान राजदूत खलीलजाद अफगानिस्तान

समाज के सभी वर्गों जैसे युवाओं, छात्रों, महिला, कारोबारियों,

सरकारी अधिकारियों और धार्मिक नेताओं के साथ चर्चा करेंगे।

अमेरिका के विशेष दूतश्री खलीलजाद के आगामी जून में

कतर में होने वाली अमेरिकी-तालिबान शांति वार्ता के आगामी दौर में भाग

लेने की उम्मीद है। पक्षों की ओर से अमेरिकी सैनिकों की

वापसी के लिए एक समझौते पर बातचीत चल रही है

और तालिबान यह गारंटी देगा कि अफगानिस्तान का

उपयोग अल-कायदा आतंकवादी समूह (रूस में प्रतिबंधित) के

सदस्यों को आश्रय देने के लिए नहीं करेगा।

अमेरिका के विशेष दूत के अफगानिस्तान पहुंचने के पहले ही

इस दिशा में स्थानीय स्तर पर हुए प्रयास को कोई सफलता नहीं मिली थी।

स्थानीय स्तर पर हुए प्रयास के दौरान वार्ता के बाद भी

तालिबान ने युद्धविराम करने के प्रस्ताव से साफ साफ इंकार कर दिया था।

दूसरी तरफ सेना भी अब दूर दराज के इलाकों तक में अपना

अभियान चला रही है। कई इलाकों में अब अफगान सेना की

तरफ से तालिबानी ठिकानों पर हवाई हमले भी किये जा रहे हैं।

इसकी वजह से अनेक स्थानों से तालिबान को अब पीछे हटने भी पड़ा है।



Rashtriya Khabar


Be First to Comment

Leave a Reply

WP2FB Auto Publish Powered By : XYZScripts.com