fbpx Press "Enter" to skip to content

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कोरोना की दूसरी लहर में देश बंद नहीं होगा

वाशिंगटनः अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि कोरोना वायरस (कोविड-19)

महमारी की दूसरी लहर में देश बंद नहीं होगा। मिशिगन राज्य में फोर्ड उत्पादन संयंत्र के

दौरे के दौरान पत्रकार के एक सवाल के जवाब में श्री ट्रंप ने कहा, ‘‘लोग कह रहे है बहुत

पृथक संभावना है। यह मानक है और हम विपत्ति से बाहर आ रहे है। हम देश को बंद नहीं

कर रहे है। हम विपत्ति से बाहर रहे है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ एक स्थायी लॉकडाउन स्वस्थ

राज्य या स्वस्थ देश की रणनीति नहीं है। हमारे देश को बंद करने का कोई मतलब नहीं

है।’’ अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, ‘‘कभी न खत्म होने वाले लॉकडाउन एक

सार्वजनिक स्वास्थ्य आपदा को आमंत्रित करेगा।’’ अपने लोगों के स्वास्थ्य की रक्षा के

लिए हमारे पास एक कामकाजी अर्थव्यवस्था होनी चाहिए।’’ उल्लेखनीय है कि अमेरिका

के सभी 50 राज्यों ने अपनी अर्थव्यवस्थाओं को गति देने के उद्देश्य से कोरोना वायरस

प्रतिबंधों में ढील देने की शुरु करने योजना की घोषणा की है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने

सर्दी के मौसम में वायरस की दूसरी लहर आने की संभावना को लेकर चेतावनी दी है।

अमेरिका में अभी तक डेढ़ लाख लोग इस महमारी मारी से बीमारी है और 90 हजार

लोगों की मौत हो चुकी है। रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्रों के अनुसार जून की शुरुआत

तक देश में कोरोना से मरने वालों की संख्या एक लाख तक पहुंचने की संभावना है।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को फिलहाल इस संकट के साथ साथ आने वाले 

राष्ट्रपति चुनाव की चिंता भी सता रही है। कोरोना नियंत्रण के बीच उनके कई फैसलों की

कड़ी आलोचना होने की वजह से वह अपनी छवि को इसी संकट काल के दौरान सुधार

लेना चाहते हैं। 

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की कूटनीति विफल

अमेरिका की कूटनीतिक विफलताओं के लिए भी अमेरिका के राष्ट्रपति को ही मुख्य तौर

पर जिम्मेदार ठहराया जा रहा है। कई देशों के साथ उसके संबंध बिगड़ने के पीछे उनका

अक्खड़ स्वभाव है। इससे कई राष्ट्राध्यक्ष नाराज हो गये हैं। 


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from नेताMore posts in नेता »
More from बयानMore posts in बयान »

3 Comments

Leave a Reply