fbpx Press "Enter" to skip to content

अपरबाजार में दुकानदारों को लॉकडाउन की कोई परवाह नहीं

  • छापामारी और दुकान सील के बाद भी बदस्तूर जारी है कारोबार

  • सामने से शटर बंद पीछे से ग्राहकों का आना जाना जारी

  • टेंपों में सामान लादकर भेजने का काम भी जोरों पर

  • पिछले दरवाजे के अलावा बेसमेंट का भी इस्तेमाल

राष्ट्रीय खबर

रांचीः अपरबाजार के दुकानदारों को लॉकडाउन और नियमों का उल्लंघन करने की कोई

परवाह नहीं है। उन्हें सरकारी गतिविधियों की पूर्व सूचना तो स्थानीय पुलिस वालों से ही

मिल जाती है। पुलिस वालों को भी पता है कि कौन सा दुकानदार अपने सामने का शटर

बंद कर किस दरवाजे से कारोबार कर रहा है। इस दौरान टेंपों से माल लाने और ले जाने का

कारोबार भी पुलिस की मदद से ही चल रहा है। आज भी इस क्रम में प्रशासनिक

अधिकारियों के जांच दल के अचानक वहां पहुंच जाने से एक दुकान तो सील हुई। दूसरे

दुकानो में बैठे ग्राहकों तक इसकी सूचना पहुंची तो दुकानदारो ने उन्हें आनन फानन में

पिछले दरवाजे से बाहर निकाला। इस दौरान क्या महिला और क्या पुरुष सभी बेसमेंट के

रास्ते से निकलकर दौड़कर भागते नजर आये। छापामारी का अंदेशा होने की वजह से कुछ

महिला ग्राहक सीढ़ी के पास एक कोने में छिपकर बैठ गयी थी। वे भी काफी देर के बाद सब

कुछ सही होने के बाद निकल भागी।

अपरबाजार के दुकानदारों के पिछले दरवाजों पर खुली छूट

छापामारी की सूचना पर सीढ़ी के पीछे खुद को छिपाये बैठी ग्राहक महिलाएं

दूसरी तरफ दुकानदारों के असली कारोबारी रास्ते में क्या कुछ चल रहा है, इसकी पूरी

जानकारी टाईगर मोबाइल और थाना के अफसरों को हो चुकी है। ग्राहकों को भी पहले से

इस बात की जानकारी होती ही कि फलां दुकान में प्रवेश करने के लिए उन्हें किस गली से

अंदर आना है। ऐसा ही नजारा गांधी चौक पर सुंदरी साड़ी में भी देखने को मिला। यूं तो

वहां की अनेक दुकाने इस तरीके से नियमित तौर पर खुल रही हैं और पुलिस की मदद से

लॉकडाउन को ठेंगा दिखाते हुए अपना कारोबार कर रही हैं। लेकिन सुंदरी साड़ी के मामले

में दुकानदार को छापा की भनक होने के बाद ही ग्राहकों को भगाया गया। इस दौरान देखा

जा सकता है कि दुकान का मुख्य शटर बंद ही था।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from एक्सक्लूसिवMore posts in एक्सक्लूसिव »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from रांचीMore posts in रांची »

Be First to Comment

... ... ...
%d bloggers like this: