fbpx Press "Enter" to skip to content

उन्नाव दुष्कर्म मामले में विधायक सेंगर दोषी करार दिये गये

  • कोर्ट ने सीबीआई को लगाई फटकार, एक साल क्यों लगा

नई दिल्ली: उन्नाव दुष्कर्म मामले में आरोपी और पूर्व बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह

सेंगर को दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट ने दोषी करार दिया है। इस मामले में देरी को लेकर

कोर्ट ने सीबीआई को फटकार लगाई, कोर्ट ने पूछा कि इस मामले में एक साल का वक्त

क्यों लगा। बता दें कि कोर्ट ने सेंगर को अपहरण और रेप केस में दोषी करार दिया है।

इसके साथ ही सेंगर का साथी शशि सिंह भी दोषी पाया गया। इस मामले में आगे 19

दिसंबर को सुनवाई होगी। इससे पहले कोर्ट में कैमरे के सामने चलने वाली कार्रवाई में

जिला न्यायाधीश धर्मेश शर्मा ने कहा था कि वे मुकदमे में सीबीआई और आरोपी पक्ष की

दलीले सुनने के बाद फैसला सुना सकते हैं। बता दें कि जुलाई में दुष्कर्म पीड़िता की कार

को ट्रक ने टक्कर मारी थी जिसमें पीड़िता की दो चाची की मौत हो गई थी। जिसके बाद

मामले की गंभीरता को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने मुकदमे को लखनऊ से दिल्ली की तीस

हजारी कोर्ट में स्थानांतरित कर दिया था। जिसके बाद इस केस की प्रतिदिन सुनवाई की

गई।

उन्नाव दुष्कर्म का आरोपी विधायक तिहाड़ में बंद है

उन्नाव केस के आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर फिलहाल दिल्ली के तिहाड़ जेल में

बंद है। तीस हजारी कोर्ट ने इस मामले में अगस्त में ही आरोप तय कर दिया था। इस

मामले में कोर्ट ने भारतीय दंड संहिता की धारा 376 दुष्कर्म, 363 अपहरण,120 बी

आपराधिक षड्ंयत्र, 366 अपहरण और महिला पर विवाह के लिए दबाव डालना और बाल

यौन अपराध सरक्षण कानून की प्रासंगिक धारा के तहत आरोप तय किए हैं। दरअसल

कुलदीप सिंह सेंगर पर आरोप है कि 2017 में उसने पीड़िता को अगवा कर दुष्कर्म किया

उस समय वो नाबालिग थी। सेंगर के साथ कोर्ट ने शशि सिंह पर भी आरोप तय किए हैं।

सेंगर पर चल रहे मुकदमे के कारण 2019 में बीजेपी ने सेंगर को पार्टी से निष्कासित कर

दिया।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from अपराधMore posts in अपराध »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from दिल्लीMore posts in दिल्ली »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

3 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!