Press "Enter" to skip to content

कोरोना महामारी में अविलंब परीक्षाएं आयोजित ना करें विश्वविद्यालय: एआईडीएसओ

चांडिल: कोरोना महामारी में उत्पन्न हर स्थिति पर अधिकारियों को ध्यान देना होगा।

इसका का हवाला देते हुए ऑल इंडिया डेमोक्रेटिक स्टूडेंट्स ऑर्गेनाइजेशन सरायकेला

जिला कमेटी की ओर से शुक्रवार को चांडिल में प्रेस कॉन्फ्रेंस किया गया। इस दौरान जिला

सचिव विशेश्वर महतो ने कहा की है कि पूरे कोल्हान क्षेत्र में लगातार सैकड़ों की संख्या में

लोग करोना संक्रमित हो रहे हैं। ऐसी स्थिति में कोल्हान विश्वविद्यालय ने छात्रों से फॉर्म

भरवाने का काम प्रारंभ कर दिया है दूसरी ओर आगामी सितंबर माह से ही कई परीक्षाओं

का रूटिंग दे दिया है। जब इस क्षेत्र में एक भी संक्रमित नहीं थे विश्वविद्यालय बंद थे

परीक्षाएं बंद थी और जब आज सैकड़ों की संख्या में रोजाना निकल रहे हैं तब हमें कुछ

दिन और इंतजार करना चाहिए। लॉकडाउन के चलते यातायात के साधन नहीं है बारिश

का मौसम है ऐसी स्थिति में दूरदराज के छात्र-छात्राएं परीक्षा केंद्र कैसे पहुंचेंगे। कुकड़ू

ब्लॉक के विद्यार्थी चाईबासा पीजी के छात्र परीक्षा देने के लिए कैसे पहुंचेंगे उनके पास

साइकिल के अलावा कोई साधन नहीं है।

कोरोना महामारी में एक साथ गाड़ी करके सभी छात्र जा भी नहीं पाएंगे। साथ ही क्या

कॉलेज प्रशासन द्वारा इस कोरोना महामारी के संक्रमण से बचाव के लिए उपयुक्त

सैनिटाइजेशन, शारीरिक दूरी पालन करवाने के लिए स्टाफ अथवा गैर-शैक्षणिक

कर्मचारियों की संख्या उपलब्ध करवायी जाएगी। अगर ऐसा नहीं हुआ तो हजारों की

संख्या में छात्र-छात्राएं इस महामारी की चपेट में आएगा। जिला कोषाध्यक्ष प्रभात कुमार

महतो ने कहा इसलिए एआईडीएसओ राज्य कमेटी के अलावा सैकड़ों छात्रों ने आज

राज्यपाल महोदया, मुख्यमंत्री एवं माननीय शिक्षा मंत्री को ईमेल के माध्यम से ज्ञापन

सौंपा है। मौके पर चांडिल कॉलेज कमिटी के अध्यक्ष विजय कुमार वर्मा एवं सचिव

विष्णुपद महतो उपस्थित थे

[subscribe2]

Spread the love
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from शिक्षाMore posts in शिक्षा »
More from सरायकेला-खरसांवाMore posts in सरायकेला-खरसांवा »

2 Comments

... ... ...