fbpx Press "Enter" to skip to content

यूनिफाइड ड्रायविंग लायसेंस एवं पंजीयन कार्ड जारी किया मुख्यमंत्री कमलनाथ ने

भोपालः यूनिफाइड ड्रायविंग लायसेंस जारी करने वाला पहला राज्य मध्यप्रदेश बन गया

है। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आज यहां ‘यूनिफाइड ड्रायविंग लायसेंस एवं पंजीयन कार्ड’ का

लोकार्पण कर नयी व्यवस्था की शुरूआत की। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार मध्यप्रदेश

देश का पहला राज्य बन गया है, जिसने यूनिफाइड ड्रायविंग लायसेंस एवं पंजीयन कार्ड

एक साथ लोकार्पित किया है। इसके पूर्व उत्तरप्रदेश राज्य ने सिर्फ यूनिफाइड ड्रायविंग

लायसेंस जारी किया है। इस मौके पर परिवहन एवं राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत भी

उपस्थित थे। यूनिफाइड ड्रायविंग लायसेंस एवं पंजीयन कार्ड में नई जानकारियां भी

संकलित की गई हैं। पूरे देश में यह कार्ड एक समान और एक रंग का है। पहाड़ी और

खतरनाक क्षेत्रों में ड्रायविंग करने की क्षमता का भी इसमें उल्लेख होगा। विशिष्ट सीरियल

नंबर होने के साथ ही इसमें आकस्मिक इमरजेंसी नंबर होगा। साथ ही बैज नंबर भी

अंकित होगा। नए कार्ड के दोनों तरफ जानकारी अंकित होने के साथ ही ऑर्गन डोनर,

क्यूआर कोर्ड और अमान्य वाहन पंजीयन नंबर की भी जानकारी होगी।

यूनिफाइड ड़्रायविंग लायसेंस के लिए कमलनाथ ने बधाई दी

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने परिवहन विभाग को देश में  पंजीयन कार्ड बनाने में

पहला और ड्रायविंग लायसेंस में दूसरा राज्य मध्यप्रदेश को बनाने के लिए बधाई दी।

मुख्यमंत्री ने इस मौके पर इस  कार्ड के प्रथम छह उपभोक्ताओं को टोकन के रूप में

कार्ड वितरित किए। इस अवसर पर प्रमुख सचिव गृह एवं परिवहन एस एन मिश्रा,

परिवहन आयुक्त मधु कुमार और परिवहन विभाग के अधिकारी उपस्थित थे। इस

यूनिफाइड पंजीयन कार्ड के मामले में काफी समय से काम चल रहा था। सारी तकनीकी

अड़चनों को दूर कर लेने के बाद मध्यप्रदेश के परिवहन विभाग ने इसे ड्रायविंग लायसेंस

के साथ ही जारी किया है। इसमें सूचना तकनीक का बेहतर इस्तेमाल किया गया है। अब

समझा जा रहा है कि इसका इस्तेमाल यहां प्रारंभ होने के बाद अन्य राज्यों में भी यह

पद्धति लागू होगी।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Be First to Comment

Leave a Reply

Open chat
Powered by