fbpx Press "Enter" to skip to content

संयुक्त राष्ट्र महासचिव गुटेरस ने बोलीविया के मुद्दे पर चिंता जतायी







संयुक्त राष्ट्रः संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने बोलीविया में

कई हफ्तों से जारी तनाव और अस्थिरता पर गहरी चिंता व्यक्त की है।

श्री गुटेरेस के प्रवक्ता स्टीफन दुजार्रिक ने रविवार को बताया कि संयुक्त राष्ट्र

महासचिव ने बोलीविया के मौजूदा हालात पर चिंता व्यक्त की है

और सभी संबंधित पक्षों से हिंसा से दूर रहने, तनाव कम करने

तथा जहां तक हो सके संयम बरतने की अपील की है।

उन्होंने सभी पक्षों से अंतरराष्ट्रीय कानून तथा आधारभूत मानवाधिकार

सिद्धांतों का पालन करने का आह्वान किया है।

महासचिव ने मौजूदा संकट का शांतिपूर्ण समाधान निकालने तथा पारदर्शी

एवं विश्वसनीय तरीके से दोबारा चुनाव कराने के लिए प्रतिबद्धता जताने की भी अपील की है।

गौरतलब है कि बोलीविया में चल रहे विरोध प्रदर्शन के बीच देश के

राष्ट्रपति इवो मोरालेस और उपराष्ट्रपति अलवारो गार्सिया लिनेरा ने

अपने पद से इस्तीफा दिया।

श्री मोरालेस और श्री लिनेरा ने सेना के कमांडर विलियम कालिमा के आग्रह पर

हिंसा के बीच इस्तीफा देने की घोषणा की।

श्री मोरालेस के चुनाव में दूसरी बार विजयी रहने के बाद 20 अक्टूबर से वहां विरोध-प्रदर्शन हो रहे हैं।

बोलीविया की विपक्षी पार्टी ने चुनावी नतीजों में धांधली का आरोप लगाते हुए

इसे मानने से इंकार कर दिया था।

संयुक्त राष्ट्र महासचिव की चिंता के बीच राजनीतिक शरण का प्रस्ताव

मैक्सिको ने बोलीविया में जारी तनाव और अस्थिरता के बीच

इस्तीफा देने पर मजबूर हुए पूर्व राष्ट्रपति इवो मोराल्स को राजनीतिक

शरण देने की पेशकश की है।

मैक्सिको के विदेश मंत्री मार्सेलो एब्रार्ड ने ट्वीट कर कहा, ‘‘मैक्सिको शरण देने

और हस्तक्षेप नहीं करने की अपनी परंपरा का पालन करते हुए बोलीविया

के अधिकारियों को शरण दी है।

हम श्री मोरालेस को भी शरण देने की पेशकश करते हैं।’’

गौरतलब है कि बोलीविया में चल रहे विरोध प्रदर्शन के बीच देश के

राष्ट्रपति इवो मोरालेस और उपराष्ट्रपति अलवारो गार्सिया लिनेरा ने

रविवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया।

श्री मोरालेस और श्री लिनेरा ने सेना के कमांडर विलियम कालिमा के आग्रह पर

हिंसा के बीच इस्तीफा देने की घोषणा की।

श्री मोरालेस के चुनाव में दूसरी बार विजयी रहने के बाद 20 अक्टूबर से वहां विरोध-प्रदर्शन हो रहे हैं।

बोलीविया की विपक्षी पार्टी ने चुनावी नतीजों में धांधली का आरोप लगाते हुए

इसे मानने से इंकार कर दिया था।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

2 Comments

Leave a Reply