fbpx Press "Enter" to skip to content

उज्जैन के महाकाल मंदिर में भस्मार्ती की धोखाधड़ी का मामला

उज्जैनः उज्जैन के विश्वप्रसिद्ध महाकालेश्वर मंदिर की भस्मार्ती में शामिल होने हालैण्ड

से आए तीन श्रद्धालुओं से धोखाधड़ी किए जाने का मामला दर्ज हुआ है। धोखाधड़ी का यह

मामला प्रकाश में आने के बाद मंदिर प्रबंध समिति द्वारा महाकाल थाने में इस मामले में

प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। महाकालेश्वर प्रबंध समिति की यहां जारी विज्ञप्ति में

बताया कि मंदिर में प्रात: 4 बजे होने वाली भस्मार्ती के लिए हॉलैड से आए कृष्णा देवी,

अम्बलिका और कीर्ति कुमारी के साथ धोखाधडी का मामला सामने आने के बाद मंदिर

प्रबंध समिति ने महाकाल थाने में एफआईआर दर्ज करायी गयी।

मंदिर प्रबंध समिति के प्रशासक एस एस रावत ने बताया कि हॉलैंड से आये एनआरआई

दर्शनार्थी इन्दौर के एक होटल में रुके थे, जहां होटल के माध्यम से उनके द्वारा उज्जैन के

महाकालेश्वर मंदिर की प्रात: होने वाली भस्मार्ती की अनुमति करावायी गयी तथा होटल

संचालक द्वारा उनसे भस्मार्ती बुकिंग के लिए दस हजार रुपये लिये।

होटल संचालक ने यहां हिमांशु व्यास के माध्यम से भस्मार्ती की बुकिंग करायी।

दर्शनार्थियों द्वारा मंदिर की पुलिस चौकी में इस संबंध में लिखित शिकायत की गयी।

पुलिस ने इस मामले में सुमित, हिमाशु व्यास एवं मनोज जोशी के खिलाफ कल रात

धोखाधड़ी की धाराओं में प्रकरण दर्ज कर मामले को विवेचना में लिया है।

उज्जैन के इस मंदिर में दुनिया भर के लोग आते हैं

महाकालेश्वर मंदिर पूरी दुनिया में ख्यातिप्राप्त है। खास तौर पर यहां अनेक लोग इस

भस्मार्ती में शामिल होने अथवा उसे देखने के लिए भी आते हैं। मंदिर प्रबंधन के लोग इस

किस्म के आयोजनों में खास तौर पर बाहर से आने वालों को कोई परेशानी नहीं हो, इसका

खास ध्यान रखते हैं। इसी क्रम में हालैंड से आये श्रद्धालुओं ने जब अपनी शिकायत उनसे

की तो मंदिर प्रबंधन ने इस पर त्वरित कार्रवाई का फैसला लिया है। मामला दर्ज होने के

बाद पुलिस मामले की जांच में जुट गयी है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

One Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!