fbpx Press "Enter" to skip to content

दो अन्य सहयोगी भी झारखंड में भाजपा से अलग हुए







  • आजसू के अलग होते ही राजग खेमा में दरार
  • जदयू का पहले से ही यही घोषित फैसला
  • लोजपा ने भी अलग होने का एलान किया
  • टिकट बंटवारे से नाराज निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे
रासबिहारी

नईदिल्लीः दो अन्य सहयोगी दल भी झारखंड के चुनावी मैदान में भाजपा से अलग हो गये हैं।

इस तरह अब राजग गठबंधन का कोई अस्तित्व इस बारे झारखंड के विधानसभा चुनाव में नहीं बचा है।

आजसू के साथ सीटों पर बात नहीं बनने के बाद आजसू ने अपनी तरफ से प्रत्याशियों की घोषणा कर दी।

उससे पहले भाजपा उन सीटों पर अपने प्रत्याशियों के नामों की घोषणा कर चुकी थी, जिनपर आजसू का दावा था।

इससे पहले बिहार में एनडीए की सहयोगी जदयू ने पहले से इस बात का

सार्वजनिक एलान कर रखा था कि भाजपा के साथ उसका गठबंधन सिर्फ बिहार में है।

दिल्ली और झारखंड में वह भाजपा के साथ चुनाव नहीं लड़ने जा रही है।

जदयू की तरफ से भी झारखंड विधानसभा के लिए अपने प्रत्याशियों के

नामों की घोषणा की जा रही है।

इसके बीच सबसे अंत में लोक जनशक्ति पार्टी ने भी झारखंड में भाजपा से

अलग होकर पचास सीटों पर चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी है।

इस तरह राजग गठबंधन के दल अब झारखंड के विधानसभा चुनाव में

अलग अलग हो चुके हैं।

दो अन्य सहयोगी में लोजपा ने औपचारिक लिस्ट जारी की

अंतिम कड़ी की घोषणा लोजपा की तरफ से चिराग पासवान द्वारा की गयी है।

पासवान ने कहा कि लोक जनशक्ति पार्टी की राज्य इकाई ने निर्णय लिया है कि

हम राज्य की 50 सीटों पर अकेले ही चुनवा लड़ेंगे।

साथ ही उम्मीदवारों की पहली सूची मंगलवार को जारी कर दी जाएगी।

पासवान ने स्पष्ट किया कि लोजपा इस बार ‘टोकन के रूप में दी जाने वाली

सीटों’ को स्वीकार नहीं करने वाली है।

उन्होंने कहा कि हमने गठबंधन के तहत छह सीटों की मांग की थी पर

इन सभी सीटों के बारे में रविवार को भाजपा द्वारा उम्मीदवारों की घोषणा

की जा चुकी है।

गौरतलब है कि भाजपा ने झारखंड विधानसभा चुनाव के लिए रविवार

को 52 उम्मीदवारों की अपनी पहली सूची जारी की थी।

लोजपा भाजपा के साथ गठबंधन की इच्छुक थी लेकिन भाजपा ने ऐसी दिलचस्पी ही जाहिर नहीं दिखाई।

भाजपा नेताओं का मानना है कि क्षेत्रीय दल के पास राज्य में मतदाताओं

को देने के लिए कुछ खास नहीं है।

भाजपा और लोजपा बिहार में गठबंधन सहयोगी हैं।

बिहार में भाजपा की एक अन्य सहयोगी जद(यू) ने भी झारखंड चुनाव में

अकेले उतरने का एलान किया है।

इससे पहले भाजपा की सहयोगी आजसू ने बिना भाजपा से बात किए 12 सीटों पर उम्मीदवारों का एलान कर दिया।

इनमें तीन सीटों पर भाजपा ने भी उम्मीदवारों की घोषणा की थी।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

2 Comments

Leave a Reply