fbpx Press "Enter" to skip to content

दो माह तक समुद्र में अटके थे अब उरुग्वे में उतरे ग्रेग मोर्टीमर के सदस्य

मोंटेवीडियोः दो माह तक उन्हें बीच समुद्र में ही रोका गया था। जहाज पर कोरोना संक्रमण

होने की वजह से उन्हें नजदीक आने की अनुमति नहीं मिली थी। अब जाकर उरुग्वे ने

कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण से ग्रसित क्रूज जहाज ग्रेग मोर्टीमर के चालक

दल के सदस्यों को पोत पर उतरने की अनुमति दे दी है। ग्रेग मोर्टीमर के चालक दल के 60

सदस्यों में से 36 के कोरोना संक्रमित पाये जाने के कारण करीब दो महीने तक समुद्र तट

पर खड़े रहने के बाद बुधवार को उसके चालक दल के सदस्यों को जहाज से उतरने की

अनुमति दी गयी। जहाज से उतरने के बाद कोरोना से संक्रमित सदस्यों को राजधानी

मोंटेवीडियो के एक होटल में क्वारंटीन के लिए ले जाया गया जबकि चालक दल के अन्य

सदस्यों को शहर के एक अन्य होटल में ले जाया गया। जहाज में सवार यात्री पिछले महीने

ही अपने घर जा चुके हैं। कोरोना वायरस से संक्रमित दो सदस्यों की हालत काफी गंभीर

बनी हुई थी जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। इनमें से एक सदस्य की बाद

में मौत हो गयी जो फिलीपींस का नागरिक था जबकि चालक दल का दूसरा सदस्य ठीक

होने के बाद अपने देश पोलैंड लौट गया। ग्रेग मोर्टीमर ऑस्ट्रेलियाई फर्म ऑरोरा

एक्सपेडिशन्स का जहाज है। यह जहाज 200 से अधिक लोगों को लेकर अंटार्कटिका,

दक्षिणी जॉर्जिया और एलिफेंट द्वीप की यात्रा पर निकला था लेकिन 20 मार्च को यह

यात्रा रद्द कर दी गयी। कोविड-19 के मद्देनजर लॉकडाउन के कारण यह जहाज अर्जेंटीना

और चिली की ओर नहीं जा सका क्योंकि दोनों ही देशों ने अपनी सीमाएं को बंद कर दिया

था।

दो माह तक रोके जाने की वजह से कई की तबियत बिगड़ी

अपने देश के अंदर संक्रमण आने से रोकने के लिए उरुग्वे ने ऐसा कठोर फैसला लिया था।

इस बीच निगरानी और राहत पहुंचाये जाने के बाद भी इस जहाज पर सवार कई लोगों की

तबियत काफी अधिक बिगड़ी है।

[subscribe2]

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from कोरोनाMore posts in कोरोना »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from विश्वMore posts in विश्व »
More from स्वास्थ्यMore posts in स्वास्थ्य »

Be First to Comment

... ... ...
%d bloggers like this: