Press "Enter" to skip to content

गोड्डा में जबरन धर्मांतरण मामले में फादर समेत दो गिरफ्तार




  • चर्च बनाने के नाम कर लगभग 60 बीघा जमीन कब्जा का था प्रयास

गोड्डा: गोड्डा में जबरन धर्मांतरण का एक मामला सामने आया है।

वहां के देवढाड़ थाना क्षेत्र के राजदाहा गांव में जबरन धर्मातरण का प्रयास करने के मामले में

त्वरित कार्रवाई करते हुए पुलिस ने राजदाहा चर्च के फादर केरल निवासी वीनोज वीजे व पिपरजोरिया के मुन्ना हांसदा को गिरफ्तार कर लिया।

इस मामले में दो अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की छापेमारी जारी है।

मामले को लेकर राजदाहा के ग्रामीणों ने एसपी शैलेंद्र वर्णवाल से मिल कर आवेदन दिया था।

मामले की गंभीरता व संवेदनशीलता को देखते हुए एसपी शैलेन्द्र प्रसाद बर्णवाल ने

जांच कर तत्काल कार्रवाई का निर्देश दिया था।

इस संबंध में पुलिस अधीक्षक शैलेन्द्र प्रसाद बर्णवाल ने बताया कि ग्रामीणों की

शिकायत पर 5 सितंबर 2019 को मामला दर्ज किया गया था।

शिकायत की गयी थी कि चर्च के फादर अन्य लोगों के साथ मिल कर सरना धर्मावलंबी को धर्म परिवर्तन कर ईसाई धर्म अपनाने के लिए प्रलोभन, धमकी व दवाब दे रहे हैं।

पुलिस ने मामले की जांच में पाया कि ग्रामीणों द्वारा राजादाहा चर्च के पादरी द्वारा अपने धर्म व अन्य धर्मावलंबियों के साथ मिल कर जमीन कब्जा करने व धर्म परिवर्तन का दवाब देने का आरोप सही था।

गोड्डा पुलिस ने कार्रवाई करते हुए किया गिरफ्तार

पुलिस ने कार्रवाई करते हुए राजदाहा चर्च के फादर सहित दो को गिरफ्तार किया है।

बताया कि अबतक जो शिकायत पुलिस को ग्रामीणों से मिली है उसमें लगभग 60 बीघा जमीन चर्च बनाने के नाम पर कब्जा करने की बात कही गयी है।

अन्य अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

बता दें कि इस मामले को लेकर ग्रामीणों ने डीसी व एसपी से शिकायत की थी।

मामले को लेकर शु्क्रवार को प्रशासनिक टीम एसडीओ संजय पी कुजूर व अंचलाधिकारी प्रदीप कुमार शुक्ला के नेतृत्व में राजदाहा गयी थी, जहां ग्रामीणों ने बयान में कहा था कि धर्म परिवर्तन का दवाब देकर जबरन जमीन कब्जा किया जा रहा है।

कहा था कि वे लोग गरीब हैं जमीन से ही भरण पोषण होता है,

जमीन को कब्जा से मुक्त कराया जाये।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •   
  •  
  •  
More from Hindi NewsMore posts in Hindi News »
More from झारखंडMore posts in झारखंड »

Be First to Comment

Leave a Reply