Press "Enter" to skip to content

तुर्की ने कहा यूरोपीय संघ के वार्ता स्थगित करने से भी उसका संकल्प अप्रभावित







मास्कोः तुर्की ने कहा है कि उसके साथ उच्च-स्तरीय वार्ता स्थगित करने का

यूरोपीय संघ की परिषद के हाल के निर्णय से पूर्वी भूमध्य सागर में

उसकी गतिविधियों को जारी रखने का उसका दृढ़ संकल्प प्रभावित नहीं होगा।

परिषद ने साइप्रस के एक्सक्लूसिव इकोनॉमिक जोन (ईईजेड) में संसाधनों के लिए

तुर्की की गतिविधियों को लेकर उत्पन्न हुए विवाद के संदर्भ इसके साथ

उच्च-स्तरीय वार्ता सोमवार शाम स्थगित कर दी है।

तुर्की के विदेश मंत्रालय ने कहा, ‘‘तुर्की के साथ उच्च-स्तरीय वार्ता स्थगित करने

यूरोपीय संघ का निर्णय पूर्वी भूमध्य सागर में हाइड्रोकार्बन के लिए गतिविधियों को

जारी रखने के दृढ़ संकल्प को प्रभावित नहीं कर पाएगा।

तुर्की अपने अधिकारों की रक्षा करना जारी रखेगा और इस संदर्भ में अपनी गतिविधियां तेज करेगा।

’’ तुर्की और साइप्रस के बीच 2011 में तनाव उस समय बढ़ा जब द्वीप के

आसपास गैस के पहले भंडार का पता चला।

एक्सक्लूसिव इकोनॉमिक जोन पर साइप्रस के दावों को अस्वीकार कर दिया।

इसके बाद तुर्की ने तीन महीनों से भी कम समय में साइप्रस के पूर्वात्तर तट पर

गैस भंडार का पता लगाने के लिए दो जहाज भेजा।

साइप्रस के पूर्वात्तर तट को अपने क्षेत्र के रूप मे देखता है।

साइप्रस ने इस कदम की कड़ी निंदा की थी।

परिषद ने तुर्की से इस संदर्भ में साइप्रस के अधिकारों का सम्मान करने की बार-बार अपील की है।

वैसे भी यूरोपीय संघ में ब्रिटेन की भागीदारी को लेकर जारी संशय के मुद्दे पर

अब संघ के अंदर भी कई किस्म की विचारधाराएं पनपने लगी हैं।

इसी वजह से सदस्य देशों क बीच भी व्यापारिक प्रतिस्पर्धा का माहौल तेजी से बिगड़ रहा है।

दूसरी तरफ कई अन्य अंतर्राष्ट्रीय कारणों से भी इनदिनों आक्रामक रुख अपनाया हुआ है।

देश के अंदर भी आतंकवादी गतिविधियों को बढ़ावा देने के आरोप भी है।

इससे भी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर यूरोपीय संघ के बीच भी तनाव लगातार बढ़ता जा रहा है।



Spread the love
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •   
  •  
  •  
    1
    Share

Be First to Comment

Leave a Reply

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com