Press "Enter" to skip to content

आदिवासी युवती के अपहरण और हत्या मामले में आरोपी गया जेल




  • शादी-शुदा प्रेमी ने अपहरण कर दिया था हत्या
  • पुलिस हिरासत से हुआ था आरोपी फरार

दुमकाः आदिवासी युवती के अपहरण और हत्या का फरार आरोपी को मुफस्सिल थाना पुलिस गिरफ्तार कर मंगलवार को जेल भेज दी। गिरफ्तार आरोपी जिले के जरमुंडी थाना क्षेत्र के दौलतपुर निवासी पंकज कुमार यादव है।




आरोपी युवक पंकज यादव फुलो-झानो मेडिकल कॉलेज अस्पताल, दुमका में आउटसोर्सिंग पर स्वास्थ्यकर्मी था। मामले का उद्भेदन एसडीपीओ, सदर मो नूर मुस्तफा ने नगर थाना परिसर में प्रेसवार्ता कर दी।

उन्होंने बताया कि बीते 4 सितंबर को जामा थाना क्षेत्र के खटंगी निवासी युवती के पिता नरेशचंद्र हेम्ब्रम ने बेटी के अपहरण का रिपोर्ट दर्ज कराया था। नरेशचंद्र वर्तमान में मुफस्सिल थाना क्षेत्र के कोदोखिचा गांव में रहते है।

आवेदन में नरेशचंद्र हेम्ब्रम ने बताया कि समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, जामा में एएनएम के पद पर कार्यरत बेटी नयनतारा हेम्ब्रम के लापता होने का रिपोर्ट दर्ज कराते हुए आरोप पंकज यादव पर लगाया था।

पुलिस अपहरण का मामला दर्ज करते हुए नामजद आरोपी पंकज यादव को हिरासत में लेकर पूछताछ को लेकर थाना लायी थी। जहां पुलिस को शौच के बहाने चकमा देकर आरोपी फरार होने में कामयाब हो गया था।




आरोपी फरार होने की सूचना पर एसपी अंबर लकड़ा ने लापरवाही का आरोप लगाते हुए थाना में पदस्थापित मुंशी समेत दो पुलिसकर्मी को लाईन हाजिर कर दिया था।

बाद में युवती का शव पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर पुलिस बरामद की। जिसका सही से शिनाख्त नहीं हो सकी। शव के शिनाख्त को लेकर दुर्गापुर पुलिस युवती के पिता से कराया। लेकिन साक्ष्य छुपाने के उद्देश्य से शव को क्षत-विक्षत कर दिया था। दुर्गापुर पुलिस युवती के पिता और बरामद शव का डीएनए जांच को लैब भेजा था।

आदिवासी युवती के शव की डीएन सैंपल लिया गया था

इधर मामले को लेकर मुफस्सिल पुलिस लगातार आरोपी की गिरफ्तारी को दबिश बनाये हुए थी। जहां 10 जनवरी को न्यायालय में आत्मसर्पण के फिराक में जुटे आरोपी पंकज यादव को पुलिस दबोचने में कामयाब रही। एसडीपीओ ने बताया कि आरोपी युवक और युवती में प्रेमप्रसंग चल रहा था।

युवती आरोपी युवक पर शादी करने का दबाब बना रही थी। लेकिन आरोपी युवक पहले से शादी-शुदा और दो बच्चों के पिता होने के कारण शादी से इंकार कर रहा था। युवति के शादी का दबाब बनाने पर आरोपी प्रेमी ने युवती को हत्या कर साक्ष्य छुपाने के उद्देश्य से जला दिया था। बंगाल पुलिस और दुमका पुलिस मामले की गुत्थी सुलझाने में जुटी थी। पुलिस को यह सफलता थाना प्रभारी उमेश राम के नेतृत्व में गठित टीम को मिली।



More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.
%d bloggers like this: