fbpx Press "Enter" to skip to content

अब 30 सेकेंड तक बजेगी मोबाइल फोन की घंटी, ट्राई ने तय की सीमा







नई दिल्ली : अब ट्राई के नियमो के विरुध कार्य कर रहे जियो कम्पनी पर बोझ बढेगी.

चुंकि जो फोन की घंटी अबतक मनमाने वक्त तक सीमित थी उसका दायरा अब 30 सेकेंड फिक्स हो गया है.

दरअसल, ट्राई के नियमो के विरुध जाकर कार्य कर रहे कई सिम कम्पनी अपने फोन की घंटी को अपने अनुसार घटाकर कम कर दिये थे.

जिसकी शुरूआत जियो कम्पनी ने की थी.

हालांकि इस संदर्भ में अन्य सिम कम्पनियो ने ट्राई से इस बात की शिकायत की थी

पर कोई कदम न उठाए जाने पर अन्य सिम कम्पनियो ने भी अपने फोन की घंटी के वक़्त को कम कर दिया था.

शुक्रवार को इस मसले पर कडे निर्णय लेते हुए भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने

मोबाइल से किये जाने वाले काल की घंटी का वक़्त बढाकर 30 सेकेंड पर फिक्स कर दिया है.

वहि अगर फोन लैंडलाइन से की जा रही है तो दुसरे तरफ से रिसिवर नही उठाने पर कुल 60 सेकेंड यानि 1 मिनट तक फोन बजता रहेगा.

घंटी के वक़्त कम करने के पिछे के कारण

दरअसल जियो भारत में आने के बाद से लगभग उपभोक्ताओ ने जियो को ही बात करने का माध्यम बनाया है.

चुंकि इस सिम से पहले तो अनलिमिटेड बाते करने का तोहफा लोगो को एक वर्ष तक मुफ्त दिया गया.

जिसके साथ अनलिमिटेड 4जी स्पीड इंटरनेट भी मुफ्त दी गयी

जो बाद में एक प्लान के तहत चार्जेबल हो गयी.

जिसमें एक बार रिचार्ज करवा लो और अनलिमिटेड बाते मुफ्त में करो.

पर जियो कम्पनी ने इसमे फोन की घंटी का वक़्त ट्राई के नियमो के विरुध जाकर 25 सेकेंड कर दिया था.

जिससे अन्य नेटवर्क पर कौल किए जाने पर फोन नही उठाने की स्थिती में जियो सिम से किये गये कौल मिस कौल होने लगे

और बदले में कौल किये जाने पर अन्य नेटवर्क पर इसका प्रभाव पडने लगा.

और कौल जोडने पर होने वाले शुल्क अन्य कम्पनीयो पर पडने लगे.

जिससे परेशान होकर अन्य दुरसंचार कम्पनिया कौल जोडने के शुल्क से होने वाली

आय का लाभ उठाने के लिये खुद से ही घंटी का समय तय कर दे रही थी.

ताकि अन्य नेटवर्क वाले उपभोक्ता उसके नेटवर्क पर कौल करने के बाध्य हो.



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »

Be First to Comment

Leave a Reply