fbpx Press "Enter" to skip to content

सोन नदी में सात युवकों की डूबकर हुई मौत, शव बरामद होने के बाद गांव में छाया मातम

गढ़वा : सोन नदी में स्नान करने के दौरान डूबने से सात युवकों की मौत हो

गई। घटना शनिवार की सुबह आठ बजे की है। सभी युवक डुमरसोता ग्राम

निवासी थे। जानकारी के अनुसार गढ़वा जिला अंतर्गत कांडी थाना क्षेत्र के

डुमरसोता गांव के समीप स्थित सोन नदी में डुमरसोता गांव के नौ लड़के

शनिवार की सुबह सोन नदी में स्नान करने गये थे। सात लड़के नहाने के दौरान

पानी के भंवर में फंस गए। जबकि दो लड़के सोन नदी के तट पर खड़े थे, वे बच

गये। ग्रामीणों द्वारा खोजबीन कर तीन शव तत्काल ही निकाल दिया गया।

जबकि दो और शव एक घंटे के अंतराल में निकाला गया। बाकी बचे दो शव को

पांच व छह घंटे के अंतराल पर निकाला जा सका। मृतकों में मुरली मिश्रा,

अश्विनी दुबे, अंकित मिश्र, नीरज मिश्र, ब्रजेश सिंह, सुशील मिश्रा व राजन दुबे

का नाम शामिल है। घटना की जानकारी के बाद गाँव में सन्नाटा छा गया और

परिजनों व उन्हें जानने वाले लोगों, रिश्तेदारों का रो-रो कर बुरा हाल हो गया है।

सोन नदी ने उजाड़े कितने आँचल, मिला सहयोग राशि

मृतक के परिजनों को कांडी बीडीओ जोहन टुडू व मझिआंव सीओ राकेश

सहाय ने घर जाकर दस-दस हजार रुपए का तत्काल चेक प्रदान किया।

बीडीओ ने बताया कि सभी को मृतक के परिजनों को चार लाख का मुआवजा

प्रदान किया जायेगा। उन्होंने कहा कि इसकी प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गई है। इस

घटना के बारे में गाँव वालों का कहना है कि इस दर्दनाक घटना से पूरा गाँव

सदमे में है और सोन नदी को शापित मान रहा है जिसने कई माँ के आँचल

उजाड़ कर रख दिये है। वहीं मृतक आलोक मिश्रा के पिता सेवानिवृत्त शिक्षक

मुरली मिश्रा ने मुआवजा लेने से इंकार करते हुए पदाधिकारियों से आग्रह किया

कि ये मुआवजा जरूरत मंद को दिया जाये। मैं स्वयं सक्षम हूं। अभी लॉकडाउन

की स्थिति में बहुत लोगों की हालत खस्ता है। ये पैसा वैसे ही जरूरत मंद लोगों

को दिया जाए। मौके पर पूर्व बीस सूत्री अध्यक्ष रामलाला दुबे, दृष्टि युथ

आँगेर्नाइजेशन का महासचिव शशांक शेखर सहित अन्य लोग मौजूद थे।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

One Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!