fbpx Press "Enter" to skip to content

दिसम्बर से बदल जायेंगे टोल टैक्स के नियम







रांची : दिसम्बर से टोल टैक्स के नियमो में केंद्र सरकार बडे बदलाव करने जा रही है.

जिसपर केंद्रिय सरकार की मुहर लग गयी है सिर्फ शुरुआत होना बाकी रह गया है.

बता दे कि 1 दिसम्बर से टोल टैक्स की भुगतान व्यवस्था पर केंद्रिय सरकार ने बडे फैसले

लेते हुए बताया है कि नये नियमो के अनुसार अब टोल टैक्स का भुगतान केवल फास्टैग

के जरिये किया जायेगा.

जिसे ईवे बिल प्रणाली की सुची में रखा गया है.

जिसके लिये सभी ट्रैवलर को अपने वाहनो पर फास्टैग लगाना अनिवार्य होगा.

हालांकि इसका फायेदा लोगो को विश्व के किसी भी कोने में यात्रा के दौरान मिलेगा.

बता दे कि इस स्कीम के तहत बिना टोल टैक्स भुगतान के सडक पर वाहन कही भी ले जा सकेंगे.

दरअसल यह नियम केंद्रिय सडक परिवहन एव राज्यमंत्री नितिन गडकरी के आदेशो के अनुसार जारी होने जा रहा है.

जिसका मुख्य उद्देश्य टोल टैक्स पर वाहनो की लम्बी कतार को कम करने से है.

जिसके कारण कई बार हाइवे पर भी जाम लग जाता है.

दिसम्बर से लागू होने वाले नियम में क्या खास है 

नितिन गडकरी ने बताया कि भारतीय राजमार्ग का कुल 24996 किलोमीटर टोल के अंतर्गत आता है.

जो सरकार की विकास निती के तहत इस वर्ष के अंत तक 27000 किलोमीटर होने की पुर्ण सम्भावना है.

चुंकि फास्टैग सरकार की एक नई पहल है जिससे वाहनो को किसी राह पर रूकना नही पडेगा.

और यात्रा में अनचाहा विराम भी नही लगेगा.

जहाँ बिना रुके ही वाहनो की शुल्क में यात्री के खाते से कटौती हो जायेगी.

जो वाहन के बिना रुके ही टोल टैक्स पर पहुंचते ही वाहन की फोटो खींच जायेगी.

चुंकि यह फास्टैग वाहनो के विंडसक्रिन पर लगा होगा जिसमें रेडियो फ़्रिक्वेंसी

आइडेंटिफिकेशन (RFID) लगा होता है.

यह सेंसर के रुप में कार्य करता है जिससे टोल प्लाजा के सम्पर्क में आते ही फास्टैग खाते से शुल्क काट लिया जाता हैैै.

गडकरी ने बताया कि इस स्कीम के तहत जहाँ लोगो को फायेदा होगा

वही भारत देश का टोल कलेक्शन अगले पांच वर्ष तक बढकर एक लाख करोड रुपये सालाना हो सकता है.



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

2 Comments

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.