Press "Enter" to skip to content

तृणमूल कैंप कार्यालय में केंद्रीय बलों का हमला, तोड़फोड़

मालदाः तृणमूल कैंप कार्यालय में भी केंद्रीय बलों के जवानों ने घुसकर तोड़फोड़ मचायी

है। यह घटना हबीबपुर थाना के बुलबुलचंडी इलाका की है। आरोप है कि वहां के तृणमूल

कैंप कार्यालयो में से कई पर केंद्रीय बलों ने हमला किया था। इन कार्यालयों में तोड़फोड़ की

गयी है। दोपहर के वक्त शांतिपूर्ण तरीके से मतदान जारी होने के बीच ही अचानक से यह

हमला तृणमूल कैंप कार्यालयों पर हुआ। तृणमूल कांग्रेस की तरफ से जिला चुनाव

अधिकारी को लिखित तौर पर सभी घटनाओं की जानकारी दी गयी है। तृणमूल कैंप

कार्यालय में अचानक से इस प्रकार का हमला होने के बाद इलाके में तनाव बढ़ गया था

और कुछ देर के लिए मतदान भी बाधित हो गया था। पार्टी के नेताओं ने जैसे जैसे स्थिति

को संभालते हुए मतदान को जारी कराया। उनका आरोप है कि केंद्रीय बलों का यह हमला

दरअसल वहां मतदान को किसी तरह से बाधित करने की साजिश का हिस्सा भर था।

वरना इन कैंप कार्यालयों में अचानक दोपहर के वक्त हमला करने का कोई औचित्य भी

नहीं था। वहां के बूथ संख्या 213 से लेकर 217 तक इस घटना से मतदान बाधित हो गया

था। तृणमूल के जिला समन्वयक हेमंत शर्मा ने कहा कि हबीबपुर में पार्टी के प्रत्याशी

प्रदीप बास्के हैं। नियमों का सही तरीके से पालन कर बने कैंप कार्यालयों पर भी केंद्रीय

बलों का हमला सिर्फ इलाके के अशांत कर मतदान को बाधित करने की चाल थी।

तृणमूल कैंप कार्यालयों पर हमला मतदान बाधित करन की साजिश

वरना बिना किसी खास वजह इस किस्म की तोड़फोड़ का कोई दूसरा कारण समझ में नहीं

आ रहा है क्योंकि सब कुछ नियम के हिसाब से ही चल रहा था। इन कार्यालयों में तोड़फोड़

करने के साथ साथ वहां मौजूद समर्थकों को भी पीटा गया है। हर ऐसे कैंप कार्यालय में

रखी कुर्सियां तोड़ दी गयी हैं। श्री शर्मा ने कहा कि इनमें से अधिकांश इलाकों के मतदान

केंद्रों में भाजपा का कोई एजेंट भी मौजूद नहीं है। इसलिए केंद्रीय सुरक्षा बल के जवान

भाजपा के लिए इस तरीके से काम कर रहे हैं। इस बारे में भाजपा प्रत्याशी जुएल मुर्मू ने

कहा कि केंद्रीय बल ऐसी कार्रवाई क्यों करेंगे, यह बात समझ में नहीं आती है। टीएमसी

का यह आरोप पूरी तरह निराधार है। लेकिन इन मामलों की शिकायत भी जिला प्रशासन

तक पहुंची है।

Spread the love
More from HomeMore posts in Home »
More from चुनाव 2021More posts in चुनाव 2021 »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »
More from विवादMore posts in विवाद »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!