Press "Enter" to skip to content

टाइगर फिर नजर आया है बेरमो के जंगलों में प्रत्यक्षदर्शी ने कहा


बेरमोः टाइगर की चर्चा फिर से बेरमो के आस पास जोर पकड़ चुकी है। दरअसल कहां यह

जा रहा है कि बेरमो में फिर से बाघ नजर आया है। पहली बार यह बाघ रेल लाइन पार

करते हुए देखा गया था। उस दौरान किसी ने मोबाइल से इसकी तस्वीर ली थी। इस बार

स्थानीय निवासी ने टाइगर देखने का दावा किया है। एक सप्ताह के भीतर दो बार बाघ

देखे जाने की वजह से इलाके में दहशत बढ़ता जा रहा है। इस बार बाघ को ऊपरघाट के

पुरनीटांड जंगल से पिलपिलो की तरफ पार करते हुए देखा गया। उससे पहले शनिवार को

बरवाबेड़ा के समीप गोमो-बरकाकाना रेलखंड में पार करते दिखा था। चश्मदीद पिलपिलो

निवासी शिव प्रसाद महतो ने बताया कि शाम पांच बजे के आसपास खासमहल जंगल से

निकलकर पुरनीटांड-पिलपिलो जंगल की तरफ टाइगर घुसा है। ग्रामीणों ने इसकी सूचना

स्थानीय पेंक-नारायणपुर थाना प्रभारी सुधांशू श्रीवास्तव व पुअनि उज्जवल पांडेय को दी।

इसके बाद थाना प्रभारी सुधांशू श्रीवास्तव व पुअनि उज्जवल पांडेय ने ग्रामीणों को

सर्तकता बरतने की अपील किया है। ग्रामीणों को जंगल में मवेशी चराने और मशरूम

निकालने के लिए मना किया है। बेरमो वन क्षेत्र के वनपाल रामेश्वर हाजरा का कहना है

कि वन क्षेत्र में लकड़बघा है। लकड़बघा को ही ग्रामीण बाघ समझ रहें है।

टाइगर होने की कोई पूर्व जानकारी यहां नहीं है

इससे पहले इलाके में बाघ होने की कोई सूचना नहीं थी। वन विभाग के आंकड़ों में यहां के

जंगलों में टाइगर यानी बाघ नहीं है। वैसे कुछ अरसा पहले पास के गोला अंचल में भी

लोगों ने बाघ देखे जाने की बात कही थी। इस बार रेल लाइन के पास मोबाइल से ली गयी

तस्वीर की वजह से इस बाघ के यहां के जंगल में होने की सूचना को अधिक भरोसेमंद

माना जा रहा है। पहली बार कोई प्रत्यक्षदर्शी भी अपनी आंखों से बाघ देखने का दावा

करता हुआ पाया है। वैसे वन विभाग के इंकार के बाद भी लोगों में भय का माहौल है

जबकि एहतियात बरतने के लिहाज से थाना प्रभारी ने लोगों के मवेशी के साथ जंगल में

जाने की अपील कर मामले को शांत रखने की पुरजोर कोशिश की है। विभागीय इंकार के

बाद भी वहां दरअसल बाघ है अथवा नहीं, इसका पुष्टि अब तक नहीं हो पा रही है। घटना

की पुष्टि नहीं होने की वजह से भी अनेक किस्म की चर्चाएं बाजार में फैल रही हैं।

Spread the love
More from HomeMore posts in Home »
More from एक्सक्लूसिवMore posts in एक्सक्लूसिव »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from पर्यावरणMore posts in पर्यावरण »
More from बोकारोMore posts in बोकारो »

Be First to Comment

Mission News Theme by Compete Themes.