fbpx Press "Enter" to skip to content

मारपीट कर फरार हुए नामजद अभियुक्तों में से तीन गिरफ्तारी

  • जख्मी इसराईल की इलाज के दौरान मौत हो गया था
  • 9 से 10 लोग मारपीट में थे शामिल

पाकुड़: मारपीट कर गंभीर रूप से घायल करने वाले इलाज के दौरान मौत, तीन नामजद

अभियुक्त को गिरफ्तार करने में पुलिस को बड़ी सफलता हासिल हुई है। इसकी जानकारी

प्रेस वार्ता में देते हुए पुलिस अधीक्षक मणिलाल मंडल ने बताया कि मुफस्सिल थाना क्षेत्र

अंतर्गत मनिका पारा के सदेकुर रहमान ने किसी बात पर फिरोज शेख को लॉक डाउन की

अवधि में मजमा लगाने के लिए मना किया। इस बात को लेकर नाराज फिरोज खान ने

अपने अन्य परिजनों के साथ कुछ देर बाद लाठी डंडा लेकर वापस लौटा और आवेदक

सदेकुर रहमान के साथ गाली गलौज करने लगा। इस बीच सादेकुर रहमान का पुत्र वानी

इजरायल ने फिरोज को गाली गलौज करने से मना किया ।इस पर लगभग 9 से 10 लोगों

ने उसके पुत्र को बुरी तरह से लाठी-डंडों से पीटकर जख्मी कर दिया। तुरंत उसे इलाज के

लिए अस्पताल लाया गया, स्थिति के गंभीरता को देखते हुए उसे बेहतर इलाज के लिए

मालदा पश्चिम बंगाल भेजा गया। किंतु उसे बचाया नहीं जा सका और उसकी मौत हो

गई। इस संबंध में आवेदक सदेकुर रहमान ने मुफस्सिल थाना में लिखित शिकायत की

थी। जिसके आधार पर थाना कांड संख्या 54, दिनांक 6 अप्रैल 2020 को धारा 147 ,148,

149 ,341, 323 ,325 ,302 ,307 भारतीय दंड विधान के विरुद्ध नामजद अभियुक्त

मोजीबुर रहमान, नुर हुसैन शेख, सफीकुल शेख, फिरोज शेख, रोनारूल शेख ,राजिम

शरीफ, मंटू शेख, अतीकुर रहमान, अस्मऊल शेख , मनिका पाड़ा को नामजद अभियुक्त

बनाया गया था। घटना के बाद से ही यह सभी फरार चल रहे थे। पुलिस अधीक्षक ने

बताया कि उन्हें 12 मई को विशेष सूत्रों से जानकारी मिली कि कुछ नामजद अभियुक्त

इस लॉग डाउन में अपने घर पर आकर रह रहे हैं।

मार पीट कर फरार होने वालों पर पुलिस की त्वरित कार्रवाई

जिस पर त्वरित कार्रवाई करते हुए थाना प्रभारी मुफस्सिल ने पर्याप्त संख्या में दल बल

के साथ मनिका पाड़ा स्थित उनके आवास पर छापेमारी की गई। जिसमें असमाउल शेख,

फिरोज शेख एवं राजिम शरीफ नामजद अभियुक्त को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने

स्वीकार किया है कि मृतक बानी इसराइल के साथ मारपीट की थी। छापामारी दल में

मुख्य रूप से पुलिस अवर निरीक्षक अमित कुमार तिवारी थाना प्रभारी मुफस्सिल, अवर

निरीक्षक श्याम देव सिंह जगदीश ताप्ती एवं सशस्त्र बल शामिल थे।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from पाकुड़More posts in पाकुड़ »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!