Press "Enter" to skip to content

पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या से जुड़े लोगों का पता चला




  • सऊदी हत्यारों में से तीन लोग आलीशान जीवन जी रहे हैं
  • अपने घरवालों से मिलते रहते हैं यह तीनों अभियुक्त
  • कड़ी सुरक्षा घेरे में अब भी सरकारी काम कर रहे हैं

लंदनः पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या करने वाले दल में शामिल तीन लोगों का फिर से पता चल गया है। इनके बारे में जानकारी मिली है कि यह तीनों सरकारी सुरक्षा के तहत एक अत्याधुनिक ठिकाने पर आलीशान जिंदगी बीता रहे हैं। बता दें कि पेगासूस स्पाईवेयर की मदद से तुर्की के सऊदी दूतावास पर पत्रकार की हत्या करने वालों का दल विशेष विमान से आया था।




अक्टूबर 2018 में हुई इस हत्या के बाद काफी देर कर उसके लापता होने की बात चर्चा में थी। बाद में धीरे धीरे यह स्पष्ट हो गया कि पत्रकार जमाल खशोली की प्रेमिका और एक मित्र के फोन में जासूसी कर सऊदी एजेंसियों को यह पहले ही पता चल गया था कि वह तुर्की से सऊदी दूतावास में कब जाने वाला है।

इसी आधार पर विशेष विमान से हत्यारों का एक दल वहां भेजा गया था। आरोप है कि जमाल की हत्या का आदेश वहां के युवराज ने ही दिया था। इस हत्या के सिलसिले में हाल ही में फ्रांस की पुलिस ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया था। लेकिन बाद में पता चला कि उस व्यक्ति का नाम एक हत्यारे के नाम से मिलता भर है। इसलिए उसे छोड़ दिया गया।




पत्रकार जमाल खशोगी के हत्यारों पर नजर है मीडिया की

इसके बाद अब जानकारी मिल रही है कि एक सरकारी सुरक्षित इलाके में बने सेवेन स्टार आलीशान जिंदगी में तीन हत्यारे बैठे हुए हैं। वे इन्हीं ठिकानों से सऊदी की सुरक्षा एजेंसियों के लिए काम भी कर रहे हैं। वहां पर तीनों के परिवार वालों को मिलने की इजाजत है लेकिन पूरे इलाके में जबर्दस्त पहरा है।

प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक खशोगी की हत्या में शामिल फोरेंसिक एक्सपर्ट सलाह अल तुबाईगी, मुस्तफा एल मदनी और मंसूर अबाहुसैन को वहां देखा गया है। यह तीनों लोग इस हत्याकांड के नामजद अभियुक्त हैं। इस हत्या के मामले में तुर्की की अदालत में मामला दर्ज है, जिसमें सऊदी अरब के कुल 26 लोगों को नामजद अभियुक्त बनाया गया है।

अब तीन लोगों को एक खास सुरक्षित इलाके में खोज लिये जाने के बाद यह स्पष्ट हो गया है कि पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या दरअसल सऊदी युवराज के कहने पर ही की गयी थी। इसी वजह से अभियुक्तों में से प्रमुख लोगों को अब तक सरकारी सुरक्षा में रखा गया है।



More from HomeMore posts in Home »
More from अपराधMore posts in अपराध »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from सऊदी अरबMore posts in सऊदी अरब »

One Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.
%d bloggers like this: