fbpx Press "Enter" to skip to content

तीन आईएएस और तीन आईपीएस अधिकारियों का तबादला




  • नीतीश के फैसलों को बट्टा लगाने में जुटे हैं कई अधिकारी

  • नवादा जहरीली शराब कांड हिदायत के बाद ही घटी

  • मधुबनी के नरसंहार से भी सरकार पर आरोप

  • राष्ट्रीय खबर की खबर हुई सच

दीपक नौरंगी

पटनाः तीन तीन अफसरों के स्थानांतरण आदेश जारी हो चुके हैं। बिहार में होने वाले

आईएएस और आईपीएस के तबादले के बारे में राष्ट्रीय खबर ने सबसे पहले अधिकारियों

के तबादले को लेकर क्या सुर्खियां बन रही है इस पर खबर प्रकाशित की थी।

वीडियो में फिर से समझ लीजिए पूरा मसला

बिहार के एक डीएम समेत दो आईएएस अधिकारियों का तबादला किया गया है। वहीं एक

आईएएस अधिकारी को अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। कटिहार के डीएम कवंल तनुज का

तबादला कर दिया गया है। उन्हें स्थानांतरित करते हुए सूचना जनसंपर्क विभाग का

निदेशक बनाया गया है। वे अगले आदेश तक प्रबंध निदेशक बिहार संवाद समिति के

अतिरिक्त प्रभार में रहेंगे। वहीं वित्त विभाग में अपर सचिव उदयन मिश्रा को

स्थानांतरित करते हुए अगले आदेश तक कटिहार का डीएम बनाया गया है। मुजफ्फरपुर

के आयुक्त मनीष कुमार को दरभंगा प्रमंडल के कमिश्नर का अतिरिक प्रभार दिया गया

है। बिहार में आईपीएस अधिकारी की लंबी लिस्ट बनकर तैयार है लेकिन जो सबसे पहले

जो आईपीएस अधिकारियों की लिस्ट जारी हुई है जिसमें सीतामढ़ी एसपी अनिल कुमार

को पुलिस अधीक्षक वितंतु बिहार पटना में तबादला किया गया है भोजपुर के एसपी हरि

किशोर राय का तबादला करते हुए उन्हें पुलिस अधीक्षक सीतामढ़ी बनाया गया है। राकेश

कुमार दुबे को पुलिस अधीक्षक भोजपुर बनाया गया है।

तीन अपर पुलिस महानिदेशक क्यों है लगातार सुर्खियों में

बिहार में अपर पुलिस महानिदेशक रैंक के अधिकारियों के तबादले को लेकर तीन महीने

से ही कई तरह की बातें सुर्खियों में है लेकिन हाल फिलहाल पुलिस के नए विधेयक का

विरोध फोन से पुलिस के वरीय अधिकारी कर रहे थे बिहार में इन दिनों पुलिस मुख्यालय

के तीन वरीय अधिकारी काफी सुर्खियों में है क्योंकि नया पुलिस विधेयक को लेकर एक

चर्चा पुलिस मुख्यालय में हुई थी जिसमें तीन सीनियर अपर पुलिस महानिदेशक रैंक के

अधिकारियों ने इस पुलिस विधयेक का बैठक में विरोध कर दिया था जहां कुल मिलाकर

21 सीनियर आईपीएस अधिकारी पुलिस मुख्यालय के उस बैठक में शामिल थे बिहार के

मुखिया नीतीश कुमार को कुछ देर से ही सही लेकिन यह जानकारी मिली कि उनके ही

सरकार के खास खास रहे तीन अपर पुलिस महानिदेशक जो पुलिस मुख्यालय में

महत्वपूर्ण पद पर बैठे हुए हैं। उन्होंने ही नए पुलिस विधयेक का विरोध किया है

विधानसभा में हंगामा होने से पहले यह बैठक पुलिस मुख्यालय में हुई थी इस बैठक में

तीन अपर पुलिस महानिदेशक ने नए पुलिस विधयेक का विरोध किया था पुलिस

मुख्यालय की उक्त बैठक की बात आईएएस और आईपीएस अधिकारियों में काफी

सुर्खियां बनी हुई है। इसकी जानकारी बिहार के सुशासन के मुखिया तक पहुंची है। लेकिन

आईपीएस अधिकारियों के तबादले की लिस्ट में कहीं न कहीं बिहार में बढ़ते कोरोना

पॉजिटिव पाए जा रहे मरीजों को लेकर सरकार काफी चिंतित है ऐसे में आईपीएस

अधिकारियों की जो एक लंबी लिस्ट है इसमें कुछ समय लग सकता है लेकिन जरूरी ही

नहीं बिहार के मुखिया नीतीश कुमार कब क्या करेंगे इसके बारे में किसी को कुछ पता नहीं

रहता है।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from बिहारMore posts in बिहार »
More from राज काजMore posts in राज काज »
More from वीडियोMore posts in वीडियो »

Be First to Comment

... ... ...
%d bloggers like this: