fbpx Press "Enter" to skip to content

तीन अस्पतालों को कोराना अस्पताल बनाया दिल्ली सरकार ने

नयी दिल्ली : तीन अस्पतालों को कोरोना अस्पताल बनाने का त्वरित फैसला दिल्ली

सरकार के द्वारा लिया गया है। दिल्ली सरकार ने लोक नायक जयप्रकाश नारायण, जी बी

पंत और राजीव गांधी सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल को कोरोना वायरस के उपचार के लिए

विशेष अस्पताल चिन्हित कर किसी भी स्थिति से निपटने की पांच सूत्री योजना तैयार की

है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने यह जानकारी दी। केजरीवाल ने पांच सूत्री योजना का

खुलासा करते हुए कहा कि यह विशेषज्ञों से विस्तृत विचार विमर्श के बाद बनाई गई है।

उन्होंने कहा कि इसे पांच टी टेस्ंिटग, ट्रैसिंग,ट्रीटमेंट, टीम वर्क और ट्रैकिंग मानिटरिंग

का नाम दिया गया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में अभी 525 कोरोना मरीज हैं। सरकार ने

उक्त तीनों अस्पतालों को कोराना अस्पताल के इलाज के लिए चिन्हित किया है।

तीन अस्पतालों के अलावा 50 हजार जांच की बात कही

श्री केजरीवाल ने कहा कि फिलहाल 3000 हजार बेड की क्षमता है जिसके लिये 400

वेंटीलेटर की जरुरत है। उन्होंने कहा कि 50 हजार लोगों की जांच की गई है। संदिग्धों का

पता लगाकर एक लाख त्वरित जांच की व्यवस्था की जा रही है। इस समय 27702 लोग

क्वारेंटाइन में हैं। उन्होंने कहा कि यदि वायरस के 30 हजार मरीज होते हैं तो इसकी लिए

8000 बेड अस्पतालों में और 22 हजार की होटलों और बैंक्वेट हालों में की व्यवस्था

कीअजा रही है जहां सभी चिकित्सा सुविधाएं होंगी। इसमें से 12 हजार. बेड होटलों और 10

हजार बेंक्वेंट हालों में होंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि दक्षिण कोरिया ने कोरोना की चुनौती से

कैसे सफलता पाई उसका अध्ययन किया गया है।। मुख्यमंत्री ने कहा कि मुझे इस बात

की खुशी है कि राजनीति से ऊपर उठकर केंद्र, राज्य सरकार और जनता सभी मिलकर

एक टीम की तरह काम कर रही हैं। डॉक्टर और नर्सें हमारी टीम का अहम हिस्सा हैं। हमारे

सबसे अहम सिपाही हैं। हमें उनका और उनके परिवार का ख्याल रखना होगा

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from दिल्लीMore posts in दिल्ली »

3 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Open chat