fbpx Press "Enter" to skip to content

शहर के मारवाड़ी समाज ने झारखंड का पहला तीन देवियों का मंदिर बनाया

  • प्राण प्रतिष्ठा सह उद्घाटन समारोह 20 से 27 फरवरी तक

  • सत्यनारायण मारवाड़ी ठाकुरबाड़ी ट्रस्ट की पहल

जमशेदपुरः शहर के मारवाड़ी समाज द्वारा साकची ठाकुरबाड़ी रोड़ में

राजस्थानी शैली से निर्मित आकर्षक मंदिर में श्री महालक्ष्मी माता, श्री अंजनी

माता और श्री राणीसती दादी जी एक साथ विराजमान होने जा रही है,

जो संभवतः झारखंड प्रदेश का एक मात्र मंदिर होगा। देवियों की भव्य

प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव सह मंदिर उद्घाटन समारोह 20 से 27 फरवरी

तक होगा। देवियों को समर्पित इस मंदिर का निर्माण शहर की धार्मिक

संस्था सत्यनारायण मारवाड़ी ठाकुरबाड़ी ट्रस्ट द्वारा करवाया गया है।

आठ दिवसीय धार्मिक महोत्सव को सफल बनाने के लिए तैयारियां

जोर-शोर से चल रही हैं। इस संबंध में शनिवार को मंदिर परिसर में

संस्था के अध्यक्ष कमल अग्रवाल, सचिव प्रमोद अग्रवाल, सुमन

अग्रवाल एवं पवन अग्रवाल ने मीडिया को आगे बताया कि इस दिव्य

अनुष्ठान को धुमधाम से संपन्न कराने हेतु कृष्ण जन्मभूमि से

आचार्य बांके बिहारी गोस्वामी जी महाराज के पावन सानिध्य में वेद

मंत्र के ज्ञाता 21 पुजारियों की मंडली शहर आ रही है। जो सात दिन

तक वैदिक मंत्रोच्चार और पूजा पद्धति के साथ सभी प्रतिमाओं को

प्रतिष्ठित करेंगे। युद्ध स्तर पर कार्य करते हुए दो वर्ष के अल्प समय

में मंदिर तैयार हुआ है। उन्होने समाज के सभी धार्मिक और सामाजिक

संस्था प्रमुखों समेत समाज के सभी लोगों से निवेदन किया हैं कि मंदिर

से जुड़े और आयोजन को सफल बनाने में सहयोग करके पुण्य के भागी

बने। उन्होंने बताया की 8 दिवसीय धार्मिक कार्यक्रम को सफल बनाने

हेतु एक टीम का गठन कर जिम्मेदारी बांट दी गयी है।

शहर के मारवाड़ी समाज ने कार्यक्रम को अंतिम रुप दिया

महोत्सव कार्यक्रम संयोजक महावीर प्रसाद अग्रवाल को बनाया गया हैं।

सह संयोजक में अशोक मोदी और सुरेश कांवटिया हैं। धार्मिक अनुष्ठान

का शुभारंभः- गुरूवार 20 फरवरी को सुबह 8 बजे कलश यात्रा से इस

धार्मिक अनुष्ठान का शुभारंभ होगा। मानगो स्वर्णरेखा घाट से कलश

यात्रा शुरू होगी, जो नवनिर्मित मंदिर में आकर संपन्न होगी। 21 से 24

फरवरी (चार दिन) तक देवी प्रतिमाओं का पूजन होगा। 25 फरवरी

मंगलवार को सुबह पूजा के बाद 11.15 बजे से देवी प्रतिमा का नगर

भ्रमण सह निशान यात्रा निकलेगी।

प्राण प्रतिष्ठा सह मंगल पाठः- बुधवार 26 फरवरी को सुबह पूजा के

सभी देवी प्रतिमाओं की प्राण प्रतिष्ठा होगा। इसी दिन दोपहर एक बजे

से राणीसती दादी जी का भव्य मंगलपाठ होगा। रात्रि 9 बजे से विराट

भजन संध्या शुभारंभ होगा, देवियों की इच्छा तक चलेगा। मंगलपाठ

का वाचक करने और भजनों की मनमोहक प्रस्तुति देने के लिए ख्याति

प्राप्त कोलकाता के कलाकार सौरव-मधुकर की जोड़ी अपनी टीम के साथ

आ रहे हैं। बुधवार को सभी भक्त दादी के प्रधान मंदिर झुनझुन धाम

से आ रही दादी जी की ज्योति का दर्शन कर सकेंगें, जो विशेष आकर्षण

का केन्द्र होगा।

महिलाओं को रजिस्ट्रेशन कराना जरूरीः– कलश यात्रा, निशान यात्रा

और मंगल पाठ में शामिल होने के लिए महिलाओं को रजिस्ट्रेशन कराना

जरूरी हैं। रजिस्ट्रेशन का कार्य शहर में सात स्थानों समेत मंदिर परिसर

में भी विगत 24 जनवरी से चल रहा हैं, जो आगामी 10 फरवरी सोमवार

तक चलेगा।

रजिस्ट्रेशन कराने के लिए साकची में 6203335116, 7766944344,

मानगो में 9263517678, बिष्टुपुर में 9431117464, कदमा में 9334080282,

7004432726, गोलमुरी में 9334285666, 06572340290, भालुबासा में

9431566633 और जुगसलाई में 9708594030 नंबर पर संपर्क किया जा

सकता हैं। गुरूवार 27 फरवरी को महाप्रसाद के साथ इस धार्मिक

अनुष्ठान का समापन होगा।

ये थे मौजूदः- संवाददाता सम्मेलन में प्रमुख रूप से शहर के मारवाड़ी

समाज के महावीर अग्रवाल, अशोक मोदी, आरके चैधरी, ओमप्रकाश

रिंगसिया, राजकुमार चंदुका, अशोक चैधरी, अमित अग्रवाल, मुरारी

लाल अग्रवाल, राजकुमार अग्रवाल, अभिषेक अग्रवाल, सन्नी संघी,

अभिषेक भालोटिया, प्रमोद जालुका, संतोष अग्रवाल, अंकित अग्रवाल,

नरेश मोदी, सुमित अग्रवाल, पंकज छावछरिया, अंकित मोदी, सुनील

सिंघानिया, नरेश संघी, गौरव अग्रवाल, विष्णु धानुका, सतीश शर्मा,

लक्ष्मीकांत खीरवाल आदि मौजूद थे

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from पूर्वी सिंहभूमMore posts in पूर्वी सिंहभूम »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Open chat