Press "Enter" to skip to content

जीवंत ज्वालामुखी के ऊपर से सकुशल निकला स्काईडाइवर




सेंटियागोः जीवत ज्वालामुखी के करीब भी जाना अत्यंत खतरनाक माना जाता है। इस खतरे को जानते हुए भी सेबास्टियन आद्रेला एलवारेज नामक स्काई डाइवर यहां के एक ज्वालामुखी के ऊपर से गुजर गया। उसके बचाव के लिए भी आस पास बचाव दल मौजूद था। लेकिन इसके बाद भी जीवंत ज्वालामुखी के ऊपर से इस तरीके से गुजरना खतरे का काम था। इस दौरान पूरे घटनाक्रम का वीडियो भी सार्वजनिक हुआ है।




देखें इस खतरनाक स्टंट का वीडियो

दरअसल एक खतरनाक स्टंट करने के लिए इस स्काई डाइवर ने यह काम किया। चिली के विलारिका ज्वालामुखी को जीवंत ज्वालामुखी माना जाता है। इसके अंदर से अब भी धुआं निकलता हुआ नजर आता है। इसी ज्वालामुखी के ऊपर से यह करतब दिखाया गया है।

इस करतब को पूरा करने के लिए आर्डिला आंद्रेला ने एक खास विंग सूट भी पहन रखा था। हेलीकॉप्टर से छलांग लगाने के बाद इसी विंग सूट की मदद से वह उड़ते हुए ज्वालामुखी के मुंह के ऊपर पहुंचे और तेज गति से उसके ऊपर से सकुशल निकल गये। बाद में उन्होंने ज्वालामुखी के ढलान पर सही तरीके से लैंडिंग भी की। इस करतब की वजह से वह दुनिया के पहले व्यक्ति बन गये हैं, जिन्होंने किसी जीवंत ज्वालामुखी को इस तरीके से पार किया हो।




जीवंत ज्वालामुखी के पर जाने वाले पहले व्यक्ति

रेडबुल के लिए यह स्टंट करने वाले आर्डिला की सुरक्षा के लिए व्यापक प्रबंध किये गये थे। दूसरी तरफ इस स्टंट को सही तरीके से रिकार्ड करने के लिए चारों तरफ कैमरे भी लगाये गये थे। खुद आर्डिला के साथ भी वीडियो कैमरा था, जो उसकी हर गतिविधि को सही तरीके से रिकार्ड भी करता जा रहा था।

दूसरी तरफ उसे यहां पहुंचाने के लिए इस्तेमाल हेलीकॉप्टर पर भी कैमरे इस दृश्य को रिकार्ड कर रहे थे। इस स्टंट के पहले वहां की परिस्थिति और हवा के रुख का भी पहले से पता लगाया गया था ताकि यह स्टंट करने में अचानक कोई परेशानी नहीं आये। वैसे बता दें कि स्पेनिश में आर्डिला का अर्थ गिलहरी होता है।

स्टंट के तह वह जीवंत ज्वालामुखी के ऊपर से करीब 280 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गुजरे। इस दौरान उन्होंने ज्वालामुखी के अंदर करीब आठ मीटर तक नीचे जाने के बाद खुद को ऊपर उठा लिया। सोशल मीडिया पर उनका यह करतब वायरल हो गया है। बाद में आर्डिला ने कहा, उड़ने के पहले मैंने जीवंत ज्वालामुखी से भी सब कुछ ठीक रखने की प्रार्थना की थी। अगर कुछ भी गड़बड़ी होती तो मैं वहीं रह जाता।



More from HomeMore posts in Home »
More from चिलीMore posts in चिली »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »

Be First to Comment

Leave a Reply

%d bloggers like this: