fbpx Press "Enter" to skip to content

अपनी रैली में जबर्दस्त भीड़ देखकर उत्साहित हुई तृणमूल अध्यक्ष

  • उनलोगों का वश चले तो देश का नाम मोदी जी पर कर देः ममता

  • जो नजर आ रहे हैं वे चुनाव के बाद कहीं नजर नहीं आने वाले

  • इस बार ममता वनाम भाजपा की लड़ाई सभी सीटों पर है

विशेष प्रतिनिधि

कोलकाताः अपनी रैली में लगातार दो दिनो की भीड़ से ममता बनर्जी भाजपा के खिलाफ

फिर से आक्रामक हो चुकी हैं। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर आयोजित रैली में

जनसमर्थन ने तृणमूल प्रमुख ममता बनर्जी को फिर से शायद उत्साहित कर दिया है।

इसके पूर्व शिलिगुड़ी की रैली में भी ब्रिगेड परेड मैदान से अधिक लोगों की भीड़ एकत्रित

हुई थी। इसी वजह से ममता ने आज अपनी रैली में ही तीखा तंज कसते हुए कहा कि अगर

कुछ लोगों का वश चलें तो वे भारतवर्ष का नाम भी बदलकर नरेंद्र मोदी के नाम पर रख

देंगे। उन्होंने आगामी विधानसभा चुनाव के संबंध में कहा कि इस बार पश्चिम बंगाल की

सभी 294 सीटों पर ममता बनर्जी वनाम भाजपा की लड़ाई है, इसे हर मतदाता को याद

रखना होगा। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आत्ममुग्ध

व्यक्ति हैं। इसी वजह से वह अपने ही नाम से स्टेडियम का नामकरण भी कर देते हैं।

कोरोना योद्धाओं को मिलने वाले प्रमाणपत्रों में भी उनकी तस्वीर छपी होती है। उन्होंने देश

को ऐसे अंधकार की तरफ धकेलने का काम किया है, जिसमें आगे चलकर वे देश का नाम

भी बदलकर नरेंद्र मोदी के नाम पर करने से परहेज नहीं करेंगे। इसरो के वैज्ञानिकों के

जटिल विज्ञान के बीच भी उन्हें लोकप्रियता भुनाने की बीमारी होती है।

अपनी रैली की तुलना मोदी की जनसभा से भी कर गयी ममता

ब्रिगेड परेड मैदान की जनसभा से नरेंद्र मोदी द्वारा उनके स्कूटर संबंधी बयान पर सुश्री

बनर्जी ने कहा कि दरअसल सभा में भीड़ कम होने की वजह से खुद मोदी ने इस

विश्वविख्यात ब्रिगेड परेड मैदान को बी ग्रेड मैदान बनाकर छोड़ दिया। उन्होंने कहा कि

जो नेता आज पश्चिम बंगाल के गली मुहल्लो में नजर आ रहे हैं, वे सिर्फ चुनाव तक भी

रहेंगे।

इस दौरान उनका काम सिर्फ झूठ परोसना होगा। श्री मोदी बंगाल में आकर अपनी रैली में

महिला सुरक्षा की बात कर जाते हैं और उनके अपने उत्तर प्रदेश में महिला सुरक्षा का क्या

हाल है, इस पर कोई बयान नहीं आता है। उत्तर प्रदेश के अलावा गुजरात में महिला सुरक्षा

की क्या स्थिति है, इस पर भी प्रधानमंत्री को सच बोलना चाहिए। उनके करीबी केंद्रीय गृह 

मंत्री अमित शाह भी सिर्फ जनता को असली मुद्दों से भटकाना चाहते हैं। इसलिए पश्चिम

बंगाल के वोटरों को सावधान रहने की जरूरत है। इस बार यह याद रखना होगा कि यह

चुनाव ममता बनर्जी वनाम भारतीय जनता पार्टी है और यह लड़ाई सभी सीटों के लिए हैं।

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर अपनी रैली में वह कॉलेज स्क्वायर से प्रारंभ होकर

पांच किलोमीटर तक गयी। उनके साथ पार्टी के कई बड़े नेता भी इस रैली में शामिल हुए।

पार्टी में नये शामिल होने वाले कई प्रमुख कलाकारों को भी इस रैली में उनके साथ देखा

गया। इस पूरे रास्ते में भारी भीड़ उनके स्वागत में सड़क के दोनों तरफ खड़ी नजर आयी

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from चुनाव 2021More posts in चुनाव 2021 »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from नेताMore posts in नेता »
More from पश्चिम बंगालMore posts in पश्चिम बंगाल »
More from बयानMore posts in बयान »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

... ... ...
%d bloggers like this: