fbpx Press "Enter" to skip to content

मयखाना खुला था कांग्रेस कार्यालय में पुलिस ने पकड़ा देखें वीडियो




  • अशोक कुमार शर्मा

हजारीबागः मयखाना खुलने का पता हर दिन सुबह चलता था। दरअसल शराब पीने वाले

हजारीबाग के कांग्रेस कार्यालय को हर रोज गंदा कर जाते थे। लॉकडाउन की वजह से

कार्यालय अधिकांश समय बंद ही रहता था। इसकी लगातार शिकायत मिल रही थी। इसी

शिकायत के आधार पर आज पुलिस ने मौका ताड़कर सही समय पर छापा मारा। पुलिस

की छापामारी का समय बिल्कुल सही था। इसी वजह से वहां से मिलने वाली शिकायतों की

पुष्टि भी हो गयी। वहां शराब पीते चार युवक पकड़े गये।

वीडियो में देखिये वहां का नजारा

मयखाना खोलने वाले इन युवकों को सिर्फ चेतावनी और कान पकड़कर उठ बैठ कराने के

बाद छोड़ दिया गया। हजारीबाग कांग्रेस पार्टी के कार्यालय परिसर में इसकी शिकायत

कांग्रेस के नेताओं तक पहुंची थी। वैसे वहां इनदिनो वीरानी ही रहती है। समझा जाता है

कि इसी वीरानी की वजह से युवकों ने मयखाना के लिए उसे सबसे बेहतर स्थान समझ

लिया था। इसकी शिकायत लगातार मिलने के बाद मंगलवार दोपहर को हजारीबाग

पुलिस ने वहां छापामारी की थी। पुलिस की इस छापामारी में वहां कुछ युवक शराब पीते

और जुआ खेलते हुए पकड़े गये। हजारीबाग सदर पुलिस को मिली गुप्त सूचना के आधार

पर कांग्रेस कार्यालय परिसर से शरारती युवकों को पकड़ा गया मौके पर पुलिस ने शरारती

युवकों को पकड़कर शारीरिक दंड के रूप में उठक बैठक कराई और आगे इस तरह का

गलती दोबारा नहीं करने का निर्देश देते हुए छोड़ दिया

मयखाना खोलकर बैठे युवकों को कड़ी हिदायत दी गयी

वहीं पुलिस ने बताया कि लॉकडाउन में युवा वर्ग के लोग घर में रहकर असहज महसूस

करते हैं। जिस कारण मनोरंजन के लिए युवक गलत कदम बढ़ाते हैं। जो कानूनन अवैध

है। हजारीबाग पुलिस इस तरह के कार्रवाई करने वालों के खिलाफ सख्त रूप से पेश आती

है। कम उम्र के युवा होने की वजह से उन्हे सिर्फ मामूली दंड देकर छोड़ दिया गया और

भविष्य में ऐसी गलती नहीं दोहराने की साफ साफ चेतावनी दी गयी।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from अजब गजबMore posts in अजब गजब »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from वीडियोMore posts in वीडियो »
More from हजारीबागMore posts in हजारीबाग »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: