fbpx Press "Enter" to skip to content

सूर्य देव की उपासना के लिए खरना संपन्न

बोकारो: सूर्य देव की उपासना के छठ पूजा पर्व को प्रकृति प्रेम और प्रकृति पूजा का सबसे

उदाहरण भी माना जाता है, लेकिन इस बार कोरोना वायरस महामारी का प्रकोप होने के

चलते कई सार्वजनिक कार्यक्रमों पर पाबंदियां लगी हुई है। इसके बावजूद भी लोगों का

जुनून और आस्था कम होती नहीं दिख रही है। चार दिवसीय लोक आस्था का महापर्व छठ

के दूसरे दिन व्रतियों ने गुरूवार की शाम में खरना का अनुष्ठान किया। शाम में स्नान दान

कर भगवान भास्कर का ध्यान लगाया और अपने घर में खरना का भोग चढ़ाया। पूजा

पाठ के बाद व्रतियों ने प्रसाद के रुप में खीर का भोजन किया। उसके बाद लोगों के बीच

प्रसाद का वितरण किया गया। लोक आस्था के इस पर्व में प्रसाद पाने के लिए लोग व्रतियों

के यहां पहुंचते रहे। देर रात तक प्रसाद पाने के लिए लोग एक दूसरे के घर जाते रहे। खरना

का प्रसाद ग्रहण करने के साथ ही छठव्रतियों का 36 घंटे का निर्जला उपवास शुरू हो गया

है। शनिवार को उदयाचलगामी भगवान भास्कर को अघ्र्य देने के बाद व्रतियों का व्रत

टूटेगा। वहीं आज जिले की मुख्य गरगा नदी, तालाबों सहित विभिन्न जलाशयों में

अस्ताचलगामी सूर्य को अध्र्य दिया जाएगा।

सूर्य देव की उपासना में 36 घंटे का निर्जला उपवास

छठ मैया की आराधना के लिए व्रत के बहुत कठोर नियम हैं। इस पर्व पर श्रद्धालु 36 घंटे

का निर्जला उपवास रखते है। छठ के दूसरे दिन यानी खरना की शाम को व्रती पूजा कर

प्रसाद ग्रहण करते है। उसके बाद वह सीधे छठ के चौथे दिन यानी उगते सूर्य को अघ्र्य देने

के बाद ही अन्न जल ग्रहण करते है। इस व्रत में शुद्धता और पवित्रता का भी पूरा ध्यान

रखा जाता है।

छठ घाटों की निगरानी ड्रोन कैमरे से

इस बार गरगा नदी व सिगांरी जोरिया पर कुल सात छठ घाटों पर 12 अस्थाई पुलियों का

निर्माण किया जा रहा है। गरगा नदी पर गरगा पुल के पास, कुंवर सिंह कॉलोनी,

कदमतल्ला बाबा चौक, कैलाश नगर, भोजपुर कॉलोनी, राणा प्रताप नगर सूर्य मंदिर के

समीप एवं सिगांरी जोरिया प्रभात कॉलोनी में अस्थायी पुल का निर्माण कराया जाएगा।

साथ ही इस बार न ही कोई मंच बनेगा और न ही किसी प्रकार का स्टॉल लगेगा। वहीं

सम्पूर्ण छठ घाटों की निगरानी ड्रोन कैमरे से कराई जाएगी।

[subscribe2]

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from कोरोनाMore posts in कोरोना »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from धर्मMore posts in धर्म »
More from बोकारोMore posts in बोकारो »
More from लाइफ स्टाइलMore posts in लाइफ स्टाइल »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: