fbpx Press "Enter" to skip to content

बाजार में सामान खरीदने लोगों की उमड़ी भीड़ नियमों की उड़ी धज्जियां

पटना : बाजार  में सामान खरीदने लोग कुछ इस तरह दौड़े मानों इसके बाद बाजार कभी

नहीं खुलने वाला है। 15 मई तक संपूर्ण लॉकडाउन लगाने का फैसले की खबर मिलने ही

प्रदेश के अधिकतर जिलों के बाजारों में अचानक खरीदारी के लिए भीड़़ उमड़ पड़ी। राशन

व सब्जियों की दुकानों पर तो एकदम से लोगों की भीड़ जमा हो गई। इस दौरान सोशल

डिस्टेंसिंग की भी खूब धज्जियां उड़ी। राजधानी पटना के प्रमुख बाजार  के दुकानों पर

खरीदारों की लाइन लग गई। इस दौरान कुछ दुकानों पर तो ग्राहकों और दुकानदारों के

बीच नोक-झोंक भी हो गई। हालांकि लॉकडाउन की घोषणा के बाद जिला प्रशासन की ओर

से बाजारों में पुलिस की गश्त देखने को मिली। कई पुलिसकर्मी लोगों को कोरोना

गाइडलाइन के बारे में समझाते हुए भी दिखे। मालूम हो कि कोरोना से कल बिहार में 174

लोगों की मौत हो गई। 42 की मौत पटना में हुई, जबकि 132 की मौत बिहार के अन्य

जिलों में हो गयी। हालांकि स्वांस्य्लि विभाग के अनुसार राज्य में इलाज के दौरान 82

लोगों की मौत हुई है। मगध, भोजपुर और सारण में 59 लोग की कोरोना से जान चली गई।

गया में नौ, सीवान और बेगूसराय में आठ-आठ, रोहतास में छह के अलावा नालंदा और

वैशाली में पांच-पांच की मौत तो गई। भोजपुर और बक्सर में चार-चार, अरवल में तीन,

सारण, गोपालगंज और कैमूर में दो-दो तथा जहानाबाद में एक को कोरोना ने लील लिया।

बाजार में सामान खरीदने का अवसर रोज रहेंगे फिर भी

 

लॉक डाउन का अंदेशा पहले से भी था। इसके पहले ही खुद नीतीश कुमार पटना की सड़कों

का हाल देखने निकले थे और भीड़ देखकर उन्होंने आश्चर्य भी व्यक्त किया था। विरोधी

दल काफी समय से कोरोना मरीजों की लगातार बढ़ती संख्या को देखकर ऐसा प्रतिबंध

लगाने की मांग भी करते आ रहे थे। लेकिन आज घोषणा होने के बाद बाजारों में जिस तरह

से भीड़ उमड़ी। उससे कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा और बढ़ गया है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from पटनाMore posts in पटना »
More from बिहारMore posts in बिहार »
More from विधि व्यवस्थाMore posts in विधि व्यवस्था »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: