fbpx Press "Enter" to skip to content

देश में हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन की कमी नहीं: स्वास्थ्य मंत्रालय

नयी दिल्ली: देश में हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन की कोई कमी नहीं है। केन्द्र सरकार ने कहा है

कि देश में हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन की कोई कमी नहीं है और इसका पर्याप्त स्टॉक है तथा

भविष्य में भी इस दवा की कोई कमी नहीं रहेगी। स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता लव

अग्रवाल ने बुधवार को संवाददाता सम्मेलन में बताया कि भारत इस दवा का सबसे बड़ा

निर्माता है और देश में दवा के स्टॉक पर उच्च स्तरीय निगरानी रखी जा रही है तथा

भविष्य में भी इसकी कोई कमीं नहीं आने दी जाएगी। उन्होंने कहा कि चूंकि यह दवा

केवल पंजीकृत चिकित्सकों की सलाह पर दी जाती है और इसे कोरोना वायरस से पीड़ति

मरीजों, उनका इलाज कर रहे चिकित्सकों अथवा मरीजों की देखभाल कर रहे रिश्तेदारों

को ही ‘प्रोफाइलेक्सिस’ के आधार पर दिया जाता है। इस दवा को हर किसी को नहीं लेना

चाहिए क्योंकि इसके काफी दुष्प्रभाव होते हैं। उन्होंने कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति

के बारे में बताया कि देश में मंगलवार से बुधवार तक इसके 773 नये मामले सामने आने

के बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 5194 तक पहुंच गयी है। कोरोना वायरस संक्रमण के

कारण अब तक 149 लोगों की मौत हुयी है तथा 402 लोग को ठीक होने के बाद अस्पताल

से छुट्टी दे दी गई है। उन्होंने बताया कि जिस तरह कोरोना विषाणु संक्रमण के मामले

सामने आ रहे हैं, उसी स्तर पर राज्यों में इससे निपटने की तैयारियां की जा रही हैं और

मुख्य ध्यान इस संक्रमण की चेन तथा इसके प्रसार को रोकना है, जिसमें राज्य सरकारों

की भी अहम भूमिका है।

देश में इस दवा की वजह से फैली थी भ्रांतियां

दरअसल अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बयान की चर्चा के बाद आनन फानन मे लिये

निर्यात के फैसले की वजह से यह भ्रम फैला था। लेकिन इन भ्रांतियों को दूर करते हुए

सरकार ने इस बारे में स्थिति स्पष्ट कर दी है। साथ ही यह भी स्पष्ट कर दिया है कि देश

की जरूरतों का पूरा ख्याल रखा जा रहा है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

2 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Open chat