fbpx Press "Enter" to skip to content

तमाड़ के कई गांवों के लिए मुख्य पहुंच पथ की लाइफ लाइन सड़क की हालत जर्जर

तमाड़ः तमाड़ के कई गांवों के लिए मुख्य पहुंच पथ की हालत ही बिल्कुल खराब हो चुकी

है। यहां के सलगाडीह, पेड़ायडीह ,नावाडीह होते हुए सोनाहातु पहुंच का मुख्य सड़क काफी

जर्जर हो गई है। बारिश के दिनों में सड़कों पर बने सारे गड्डों में भी पानी भरा हुआ है। इसी

वजह से अब इस सड़क में वाहन तो क्या पैदल चलना भी यहां के लोगों के लिए काफी

मुश्किल काम हो गया है। पेड़ायडीह, उलिलोहर, डिम्बुजर्दा, जानुमपिड़ी चार पंचायतों के

हजारों लोगों का रोज इसी मार्ग से आना जाना होता है। इन क्षेत्रों की लाईफ लाईन यही

सड़क है। सड़क की हालत बिगड़ते देख यहां के ग्रामीणों से अपनी तरफ से पहल और

मेहनत करने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी। वहां के लोगों ने आपसी विचार विमर्श कर

श्रमदान कर इसकी हालत सुधारने का फैसला किया है। इसी निर्णय के बाद वहां के

ग्रामीणों द्धारा सड़क को चलने लायक बनाने को लेकर गडढे को कई बार मिट्टी मोरम से

श्रम दान कर भरा भी गया। ग्रामीणों की अपनी मेहनत से यह सड़क काम चलाऊ बन गयी

थी। लेकिन बरसात में भरी हुई मिट्टी भी बारिश के पानी से साथ धूल गयी है। इससे सड़क

पहले से और ज्यादा खराब हो गयी है। वही सड़क की हालत ऐसी हो गई है कोई बीमार

व्यक्ति को ले जाया जाए तो उसकी रास्ते में ही मौत हो जाएगी। अभी हालत यह है कि

ग्रामीणों को इस सड़क से दस किलोमीटर की दूरी तय करने में घंटों का समय लग रहा है।

वाहनों से आने जाने में भी लगातार दुर्घटना का खतरा भी बना रहता है।

तमाड़ के इस सड़क को करोडों की लागत से बनाया गया था

इस सड़क मरम्मति का कार्य एक वर्ष पूर्व करोड़ों की लागत से किया गया था लेकिन

संवेदक के लापरवाही का दंश अब ग्रामीणों को झेलना पड़ रहा है और ग्रामीण विभाग के

प्रति आक्रोश व्यक्त कर रहे है ।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from घोटालाMore posts in घोटाला »
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »

3 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!