fbpx Press "Enter" to skip to content

बड़ा तालाब में जल कुंभी की सफाई फिर से प्रारंभ होगी

संवाददाता

रांचीः शहर का सबसे बड़ा जलागार यानी बड़ा तालाब अभी पूरी तरह जलकुंभी से भरा हुआ

है। कोरोना लॉक डाउन के दौरान सफाई नहीं होने की वजह से कुछ इलाकों को छोड़कर

सभी इलाकों में यह काफी बड़ी हो चुकी है। यहां तक कि तालाब के बीचों बीच बने स्वामी

विवेकानंद की प्रतिमा के ठीक नीचे का हिस्सा भी जलकुंभी से काफी हद तक ढका हा है।

इतने दिनों के बाद फिर से इस स्थिति को सुधारने की कवायद प्रारंभ हुई है। रांची की

महापौर आशा लकड़ा ने खुद इसकी पहल की है। उनके नेतृत्व में 25 सफाईकर्मियों एवं 4

जेसीबी के द्वारा जलकुंभी को सफाई किया जा रहा है।

जलकुंभी से मुक्ति दिलाने में रांची नगर निगम की सहयोग करें

बताया गया है कि अब यह कार्य लगातार चलेगा। महापौर ने साफ-सफाई को लेकर शहर

के सामाजिक संगठन एवं प्रबुद्ध व्यक्तियों से आह्वान की थी कि वे भी हमारे इस मुहिम

में शामिल हो और श्रमदान कर रांची के दिल कहे जाने वाले इस बड़ा तालाब को जलकुंभी

से मुक्ति दिलाने में रांची नगर निगम की सहयोग करें । इसके तहत आज महापौर की

अपील पर रांची के सांसद संजय सेठ, पद्मश्री मुकुंद नायक जी, रांची नगर निगम के उप

महापौर लंजीव विजयर्वीगय, रांची नगर निगम के नगर आयुक्त मनोज कुमार औऱ वार्ड

पार्षदों में अरुण झा, मोहम्मद एतेशाम, सुनील कुमार समेत कई अन्य लोग सफाई कार्य

को मुहिम की तरह लेकर कार्य करने में तत्परता दिखे। महापौर ने सभी जनप्रतिनिधि एवं

सामाजिक संगठन एवं अन्य लोगों से आग्रह है कि आज जिस प्रकार से आप सभी लोगों ने

सामने आकर जलकुंभी को हटाने की दृष्टि से काम कर रहे हैं आगे भी लगातार इस काम

को साफ सफाई एवं मॉनिटरिंग करते रहेंगे क्योंकि यह हम सभी की धरोहर है।

इसके बीच जलकुंभी की सफाई का काम प्रारंभ होने के पहले ही तालाब के चारों तरफ पेवर

बिछाने का ठेका कार्य प्रारंभ हो चुका है। कई टुकड़ों में हो रहे इस काम में अब खेत मुहल्ला

की तरफ मजदूर काम करते हुए नजर आये हैं। वैसे इस तालाब के चारों तरफ पैदल चाल

पथ बनाने का काम अब तक पूरा नहीं किया जा सका है। चर्चा है कि समय समय पर

ठेकेदार को भुगतान नहीं होने की वजह से चंद दिनों का यह काम कई सालों तक खींच रहा

है। इसकी वजह से इस योजना की लागत भी बढ़ती जा रही है।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from रांचीMore posts in रांची »
More from राज काजMore posts in राज काज »

One Comment

Leave a Reply

... ... ...
%d bloggers like this: